Ultrasound टैक्नीशियन कैसे बने?

हॉस्पिटल्स में जब मरीज का इलाज किया जाता है तो डॉक्टर द्वारा मरीज का अल्ट्रासाउंड किया जाता है जिससे मरीज के अन्दर की बीमारियों का पता लगाया जाता है अल्ट्रासाउंड करने वाले व्यक्ति को अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन कहा जाता है आप में से बहुत से लोगों को नहीं पता होगा कि अल्ट्रासाउंड कैसे होता है और अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए क्या करना होता है तो ऐसे कैंडिडेट हमारे आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ें, क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने से रिलेटेड पूरी जानकारी देने वाले हैं.

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन कौन होता है?

ultrasound technician kaise bane
Image Credit: Shutterstock

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए आपको रेडियोग्राफी का  कोर्स करना होता है हॉस्पिटल्स में जब मरीज का इलाज किया जाता है तो डॉक्टर अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए कहते हैं जिससे मरीज के शरीर में होने वाली बीमारियों का पता लगाया जा सके और डॉक्टर पेसेंट का सही से इलाज कर सके क्योंकि अल्ट्रासाउंड में मरीज के शरीर में होने वाले सभी बीमारियों के बारे में पता चल जाता है अल्ट्रासाउंड करने वाले व्यक्ति को अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन कहा जाता है.  अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए आपको रेडियोग्राफी मे कई सारे कोर्सेज मिल जाएँगे जैसे- बैचलर कोर्सेज, डिप्लोमा कोर्सेज इत्यादि. इसमें से आपको जो कोर्स सही लगे आप वो कोर्स कर सकते हैं. इसमें हम आपको बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स बारे मे बताएंगे.

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए कौन सा कोर्स करना होता है?

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए आपको रेडियोग्राफी का कोर्स करना होता है रेडियोग्राफी मे आपको कई सारे कोर्सेज मिल जाएँगे, जैसे- डिप्लोमा कोर्सेज, बैचलर कोर्सेज इत्यादि. इसमें हम आपको बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स बारे मे बताएंगे. इस कोर्स की ड्यूरेशन 3 साल की होती है.

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के बाद अगर आप हायर एजुकेशन करना चाहते हैं तो एमएससी या पीएचडी कोर्सेज कर सकते हैं.

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनाने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के लिए कैंडिडेट का साइंस स्ट्रीम से 12th पास होना जरूरी होता है और साथ ही कैंडिडेट के 12th में 50% मार्क्स भी होने चाहिए

अल्ट्रासाउंड टेक्निशियन बनने के लिए बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स में एडमिशन कैसे ले?

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने के लिए आप बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स कर सकते हैं ज्यादातर कॉलेजेज में बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है बहुत कम कॉलेज ऐसे मिलेंगे जो आपको मेरिट के बेस पर डायरेक्ट एडमिशन देते हैं क्योंकि यह एक बैचलर डिग्री कोर्स है और अगर आप किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होगा.

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स की फीस कितनी होती है?

बीएसई इन रेडियोग्राफी कोर्स की फीस एक एवरेज तौर पर देखी जाए तो 2,00,000 से ₹10,00,000 के बीच में होती है बाकी आपकी ये फीस आपके कॉलेज पर डिपेंड करती है कि आप किस कॉलेज में एडमिशन ले रहे हैं अगर आप किसी गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो आपकी फीस कुछ कम रहती है लेकिन अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज से यह कोर्स करते हैं तो आपकी फीस काफी ज्यादा बढ़ जाती है इसलिए हमेशा कोशीश करियेगा कि आप गवर्नमेंट कॉलेज से इस कोर्स को करें.

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन का कोर्स करने के बाद आप किस सेक्टर में जॉब पा सकते हैं?

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के बाद आप

  • गवर्नमेंट हॉस्पिटल
  • प्राइवेट हॉस्पिटल
  • लेबोरेट्रीज
  • प्राइवेट क्लिनिक
  • डिफेंस फोर्सेज
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स, इत्यादि सेक्टर्स में जॉब पा सकते हैं.

इस कोर्स को करने के बाद आप इन पदों पर जॉब पा सकते हैं

  • CT-Scan टेक्नीशियन
  • MRI टेक्नीशियन
  • एक्स-रे टेक्नीशियन
  • अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन, इत्यादि पदों पर जॉब पा सकते है.

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के लिए टॉप इंस्टिट्यूट कौन कौन से हैं?

बीएससी इन रेडियोग्राफी कोर्स करने के लिए ये कुछ टॉप इंस्टीट्यूट्स हैं

  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, न्यू दिल्ली
  • राजीव गाँधी यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस, बैंगलोर
  • टाटा मेमोरियल सेंटर, मुंबई
  • डेल्ही यूनिवर्सिटी, दिल्ली NCR
  • NIMS यूनिवर्सिटी, राजस्थान
  • महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस, महाराष्ट्र, इत्यादि.

इसके अलावा आपको और भी बहुत सारे कॉलेज मिल जाएंगे जहाँ से आप बीएससी इन रेडियोग्राफी का कोर्स कर सकते हैं.

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन की सैलरी कितनी होती है?

अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन के पद पर आपको स्टार्टिंग में 15,000 से ₹30,000 के लगभग पर मंथ सैलरी मिलती है आपकी ये सैलरी आपकी स्किल्स और एक्सपीरियंस पर डिपेंड करती है धीरे धीरे समय और एक्सपीरियंस बढ़ने के साथ ही आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है.

इसे भी पढ़ें?

MRI टैक्नीशियन कैसे बने?

बिजली विभाग में नौकरी कैसे पाये

मेट्रो में ड्राईवर कैसे बने

रेलवे में जॉब कैसे पायें

म्यूजिक टीचर कैसे बनें?

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, हम उम्मीद करते हैं कि हमारा ये (ultrasound technician kaise bane) आर्टिकल आपको पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्योंकि इसमें हमने आपको अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनने से रिलेटेड पूरी दी है

हमारी ये (ultrasound technician kaise bane) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएगा और जो स्टूडेंट्स अल्ट्रासाउंड टेक्नीशियन बनना चाहते हैं उनके साथ भी जरूर शेयर कीजिएगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.