सुंदर पिचाई का जीवन परिचय | Sundar Pichai Biography In Hindi

Sundar Pichai Biography In Hindi

दोस्तों सुन्दर पिचाई के बारे में आप सभी लोगो ने सुना ही होगा लेकिन आप में से बहुत से कैंडिडेट ऐसे भी होंगे जिन्हें इनके बारे में पूरी जानकारी नही होगी इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम सुंदर पिचाई के बारे में पूरी जानकारी देंगे, तो जिन लोगो को इनके जीवन परिचय के बारे में जानकारी नही है वो इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़ें.

Sundar Pichai Biography In Hindi

सुंदर पिचाई की जीवनी (Sundar Pichai Biography, height, net worth In Hindi) 

सुंदर पिचाई एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं, जो कि इस वक्त गूगल इंक कंपनी के चीफ एक्सिक्विटिव ऑफिसर (CEO) की पोस्ट पर काम कर रहे है, सुंदर पिचाई जी एक दशक से भी ज्यादा समय से इस कंपनी से जुड़े हुए हैं और इस कंपनी के साथ जुड़कर इन्होंने कई उपलब्धियां प्राप्त भी की हैं इसके साथ ही इन्होंने इस कंपनी की ग्रोथ करने में अपना बहुत योगदान दिया है.

सुंदर पिचाई का जीवन परिचय-

पूरा नाम पिचाई सुंदरराजन
नागरिकता संयुक्त राज्य अमेरिका
गृह नगर भारत
शिक्षा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर,

स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय और पेन्सिल्वेनिया यूनिवर्सिटी

धर्म हिंदू
भाषा का ज्ञान हिंदी, अंग्रेजी
पेशा गगूल के सीईओ, कंप्यूटर इंजीनियर
लंबाई 5’11
वजन 66 किलो
राशि कर्क
कुल संपत्ति US$1.2 अरब (83,73,00,00,000)

सुंदर पिचाई के परिवार और जन्म के बारे में संक्षिप्त जानकारी-

सुंदर पिचाई जी का जन्म तमिलनाडु के मदुरै शहर में हुआ था और इनका शुरूआती जीवन यही पर बीता. इनके पिता एक विद्युत इंजीनियर थे और इनकी मां बतौर स्टेनोग्राफर के तौर पर काम करती थी, इनकि शादी अंजलि नाम की लड़की से हुई और इनके दो बच्चे भी हैं.

जन्मतिथि 12 जुलाई, 1972
जन्म स्थान मदुरै, तमिलनाडु, भारत
पिता का नाम रघुनाथ पिचाई
माता का नाम लक्ष्मी पिचाई
पत्नी का नाम अंजलि पिचाई
बच्चों का नाम किरण पिचाई और काव्या पिचाई

सुंदर पिचाई की शिक्षा कहाँ हुई?

इन्होने 10th कक्षा तक की पढ़ाई जवाहर विद्यालय से और 12th कक्षा की पढ़ाई वाना वानी स्कूल से हासिल कर रखी है इन्होंने मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग विषय में डिग्री भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर से ली थी. इंजीनियरिंग की डिग्री लेने के बाद ये अमेरिका चले गए थे और वहां इन्होंने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में एडमिशन लिया और उसके बाद विश्वविद्यालय से भौतिक विज्ञान और इंजीनियरिंग के विषय में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री प्राप्त की थी, इसके अलावा इन्होंने व्हार्टन स्कूल ऑफ पेंसिल्वेनिया से भी एमबीए की डिग्री भी ली है.

इनकी काबिलियत को देखते हुए माइक्रोसॉफ्ट जैसी बड़ी कंपनियों ने इन्हें नौकरी का प्रस्ताव दिए था लेकिन इन्होंने हमेशा गूगल कंपनी के साथ ही काम किया और उनके प्रस्ताव को ठुकरा दिया था.

सुंदर पिचाई का करियर कैसा था?

गूगल का हिस्सा बनने से पहले सुंदर पिचाई जी ने मैकिंसे एंड कंपनी में काम किया थे इसके बाद इन्होंने गूगल कंपनी को ज्वाइन कर लिया था. जिस वक्त इन्होंने इस कंपनी को ज्वाइन किया था उस वक्त ये इस कंपनी की एक छोटी सी टीम का हिस्सा हुआ करते थे और गूगल सर्च टूलबार पर काम करती थी. गूगल क्रोम, ब्राउजर को बनाने के पीछे इनकी प्रमुख भूमिका थी और बहुत कम समय में क्रोम दुनिया का नंबर 1 ब्राउजर भी बन गया था उसके बाद साल 2008 में सुन्दर पिचाई जी को इस कंपनी के उत्पाद विकास विभाग का उपाध्यक्ष बना दिया गया था और साल 2012 में इन्हें क्रोम और ऐप्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष बनाया गया था. इनके किए गए कार्यों को देखते हुए इन्हे गूगल का सीईओ बना दिया गया था और इस कंपनी के सबसे महत्वपूर्ण उत्पादों को बनाने में इनका प्रमुख योगदान रहा है.

सुंदर पिचाई के साथ जुड़े विवाद क्या है?

सुंदर पिचाई जी के साथ किसी भी तरह का विवाद नहीं जुड़ा है, लेकिन साल 2018 में इन्होंने अपनी कंपनी से जेम्स डेमोर को उनके द्वारा लिखे गए एक मेमो के चलते उन्हें बाहर निकाल दिया था, इस मेमो में जेम्स ने लिखा था कि  “गूगल कंपनी महिलाओं को कम मौका देती है और इस कंपनी में काफी कम संख्या में महिलाएं काम कर रही हैं” वहीं जेम्स को निकालने के बाद सुंदर पिचाई ने अपनी सफाई देते हुए कहा था, कि जेम्स को निकालने का निर्णय सही था.

सुंदर पिचाई के जीवन से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें-

सुंदर पिचाई ने साल 2011 में ट्विटर कंपनी को ज्वाइन करने का फैसला किया था लेकिन गूगल कंपनी ने इन्हें ज्यादा पैसे देकर ट्विटर कंपनी में जाने से रोक लिया था सुंदर पिचाई और उनकी पत्नी ने एक साथ ही आईआईटी कॉलेज में पढ़ाई की थी और इसी दौरान ही इन्होंने एक दूसरे को डेट करना शुरू किया था, समय-समय पर सुंदर पिचाई अपने कॉलेज (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर) के छात्रों के साथ बात करके अपने अनुभव को बांटते हैं.

सुंदर पिचाई की कुल आय और इनकम क्या है?

सुंदर पिचाई जी को फरवरी 2016 में गूगल की होल्डिंग कंपनी अल्फाबेट के 273,328 शेयरों से सम्मानित किया गया था और 2016 में इन्होने गूगल कंपनी को अपनी सर्विस देकर 1,280 करोड़ रुपए भी कमाए थे जबकि साल 2015 में इन्हें जब  उत्पाद के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर प्रमोट किया गया तो इन्हें मुआवजे (compensation) के रुप में लगभग 600 करोड़ रुपए दिए गये थे. इन्होंने कई सालों तक कड़ी मेहनत के बाद गूगल कंपनी में सीईओ का पद हासिल किया और साथ ही साथ अपने नए-नए सुझाव देकर इस कंपनी को नई बुलंदियां पर भी पहुंचाया है.

इसे भी पढ़ें?

अक्षता मूर्ति जीवन परिचय

मौलाना अबुल कलाम आज़ाद का जीवन परिचय

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (Sundar Pichai Biography In Hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको सुन्दर पिचाई जी के जीवन के बारे में पूरी जानकारी दी है

हमारी ये (Sundar Pichai Biography In Hindi) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.