प्रॉक्सी सर्वर क्या है? | प्रॉक्सी का क्या मतलब है

proxy server kya hai in hindi

proxy server kya hai in hindi

आप सभी सर्वर के बारे में तो जानते ही होंगे server एक ऐसा computer होता है जिसमे internet पर मौजूद सभी information store होकर रहती है हम web browser से जो भी जानकारी search करते है तो वो information ऐसे ही किसी server से हमारे device तक पहुंचती है.

आज हम भी ऐसे ही किसी के बारे में जानकारी देंगे, अक्सर आपने देखा होगा कि कई सारे schools, colleges या offices में websites block कर दी जाती है कई websites तो ऐसी भी होती है जिन्हें कुछ देशों में access करने की अनुमति भी नही दी जाती है.

तो ऐसे में internet की कम जानकारी होने की वजह से लोग इन block किये गये websites को access नही कर पाते हैं लेकिन कुछ internet users ऐसे भी होते है जिन्हें पता होता है कि किसी भी block website को access कैसे करना है और ये कम वो बड़ी ही आसानी से कर लेते हैं.

वैसे तो ये सारा खेल एक सर्वर का होता है जिसकी मदद से हम और आप किसी भी तरह की website से जानकारी पा सकते हैं इस सर्वर का name है proxy server, जिसके बारे में आज हम इस article में आपको बताने वाले हैं.

प्रॉक्सी सर्वर क्या है? (What is a proxy server?)

Proxy सर्वर हमारे और internet के बीच में एक ब्रिज की तरह होता है जो यूजर को internet से जोड़ता है proxy सर्वर एक computer होता है जो client और internet के बीच gateway यानि मुख्य द्वार की तरह work करता है proxy का मतलब होता है.

किसी दूसरे को प्रस्तुत करना या फिर किसी दूसरे की तरफ कार्य करना, proxy सर्वर client की तरफ से सर्वर पर request भेजता है और client तक इनफार्मेशन भेजता है internet पर हर computer के लिए एक विशिष्ठ IP(internet protocol) address मौजूद होता है.

IP address को आप ऐसे भी समझ सकते हैं जैसे आपके घर का एक address होता है जहाँ पर आपके नाम का लेटर या कोई package आपके नाम पर deliver होता है उसी तरह internet से data को आपके device तक पहुंचाने के लिए IP address का use किया जाता है.

इस IP address की वजह से internet से आपके device के location का पता चल सकता है बहुत से लोग proxy सर्वर का use अपने computer का IP address छुपाने के लिए करते हैं जब आप internet पर serve करने के लिए अपने browser का उपयोग करते हैं.

तो आप उस website से सीधे जुड़ जायेंगे जिस पर आप जा रहे है लेकिन proxy सर्वर आपकी ओर से अन्य IP address का इस्तेमाल कर वेबसाइटो के साथ संवाद करके आप तक information पहुंचाते है.

जिससे आपके device का IP address छुप जाता है इसका मतलब है कि हम अपने computer system या अन्य device पर देख तो सकते हैं लेकिन website के सर्वर से जुड़ने वाले system कोई और ही होते है जिन्हें हम proxy सर्वर कहा जाता हैं इस सर्वर की मदद से हम किसी website को सीधे अपने computer से access न करके proxy सर्वर के द्वारा access कर सकते हैं.

What is Proxy Server

अब हम समझते हैं कि proxy server काम कैसे करता है proxy server एक यूजर और website के server के बीच एक माध्यम का कार्य करता है जब यूजर को कोई information चाहिये होती है तो वो web browser पर किसी webpage या website को सर्च करता है.

यूजर का ये request proxy सर्वर से होते हुए websites के सर्वर तक पहुंचता है और फिर website का सर्वर proxy से आये हुए request के आधार पर content या फाइल का proxy सर्वर पर भेजता है फिर proxy सर्वर से यूजर के device पर information भेज दी जाती है.

यानि यूजर जब भी कोई request भेजता है तो वह proxy सर्वर के माध्यम से main web server पर जाती है इस तरह web server भी directly client को data न भेजकर proxy server के माध्यम से client के device तक भेजता है सरल शब्दों में कहे तो यूजर को internet से data indirect तरीके से मिल रहा होता है.

अब आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा कि अगर यूजर directly website से data access कर सकता है तो यहाँ पर proxy server का use क्यों किया जा रहा है असल में proxy सर्वर का use blocked websites को खोलने के लिए किया जाता है साथ ही proxy सर्वर यूजर को security से जुड़ी सुविधाएं भी प्रदान करता है.

आमतौर पर proxy सर्वर का काम आपकी पहचान को गोपनीय रखते हुए आपके द्वारा मांगी गयी जानकारी को आपके सामने प्रदर्शित करना है तो चलिए आपको थोड़ा विस्तार से समझाते हैं जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया था कि internet से जुड़े सभी computer का अपना अपना unique address होता है.

जिसके जरिये internet को ये पता चल पाता है कि कौन सा computer किस location पर स्थित है ताकि सही data सही computer तक पहुंचाया जा सके proxy सर्वर भी एक प्रकार का computer होता है जिसका खुद का एक IP address होता है.

तो जब यूजर को internet से कोई information चाहिये होती है तो उसके लिए आपका device सबसे पहले proxy सर्वर को request भेजता है और proxy सर्वर यूजर के request को उस destination server को भेज देता है जहाँ पर वो information store रहती है.

यूजर के computer और सर्वर के बीच सीधे तौर पर कोई communication नही होता है इसीलिए सर्वर को यूजर के IP address का पता नही चल पाता इससे यूजर के system की पहचान की छुप जाती है इस तरह से proxy सर्वर security की सुविधा प्रदान करता है.

अब बात करते है कि blocked website को खोलने में proxy सर्वर की क्या भूमिका है किसी किसी देश में या किसी government organization में कुछ websites को block कर दिया जाता है आप कितनी भी कोशिश कर लें आप उस website को अपने system में खोल कर नही देख पाएंगे.

लेकिन अगर आप proxy सर्वर का इस्तेमाल करके website को खोलने की कोशिश करेंगे तो आप आसानी से उनके content को देख पाएंगे जब आप किसी block website को proxy सर्वर के जरिये खोलते हैं तो internet पर आपका IP address छुपा दिया जाता है.

और उसकी जगह एक ऐसा IP address दर्शा दिया जाता है जिस पर वो website block न हो, इस तरह आप अपने device से block websites को खोल पाते हैं अगर अप कोई block website को खोलना चाहते हैं तो आपको browser पर जाकर free proxy server list type करना है.

और आपको हजारों ऐसे websites मिल जायेंगे जहाँ से आपको free proxy सर्वर की list मिल जाएगी उनमे से एक proxy सर्वर को select कर आपको open करके सर्च बॉक्स पर block website का URL Type कीजिये और enter पर press करके आपका सर्च किया हुआ website open हो जायेगा.

What is Proxy Server

तो चलिए अब हम जानते हैं कि proxy सर्वर के क्या क्या फायदे हैं? proxy सर्वर को catching के लिए उपयोग किया जाता है इसका मतलब है कि जब कोई यूजर किसी information को proxy सर्वर के जरिये को access करता है तो सर्वर उस इनफार्मेशन को save कर लेता है.

ताकि जब कोई दूसरा यूजर उसी information को access करता है तो सर्वर उस save information को यूजर को दे देता है इससे एक और फायदा होता है कि information access करने की speed बढ़ जाती है, नंबर 2 proxy सर्वर IP address को छुपा देता है.

इससे यूजर की पहचान internet से भी छुप जाती है यदि आप किसी website को directly अपने computer से access करते हैं तो आपका IP address और कुछ अन्य details web सर्वर पर पहुँच जाती हैं लेकिन proxy की मदद से internet में जो भी system की information जाती है.

वो proxy सर्वर की होती है जिस यूजर की identity और नेटवर्क दोनों सुरक्षित हो जाते हैं और इससे उन हैकर्स का खतरा भी नही होता जो आपके system से information को चुरा लेते हैं, नंबर 3 proxy सर्वर के द्वारा blocked websites को खोला भी जा सकता है.

और यूजर की request पर किसी website को block भी किया जा सकता है अगर यूजर किसी website का इस्तेमाल नही करना चाहता है तो वो उसे proxy सर्वर के द्वारा block कर सकता है जैसे कुछ माता पिता होते है.

जो ये नही चाहते कि उनके बच्चे internet पर कुछ भी गलत देखें या सीखे इसीलिए वे proxy सर्वर का इस्तेमाल website को block करने के लिए करते हैं, नंबर 4 किसी भी organization के लिए अपने सर्वर हैक होने और data theft होने का खतरा हमेशा बना रहता है.

इस मामले में proxy सर्वर काफी हद तक सुरक्षा प्रदान करता है कोई भी organization proxy सर्वर की मदद से client और सर्वर के बीच हो रहे communication को encrypt कर सकती है.

जिससे कोई third part data को read न कर सके, hackers आपके proxy सर्वर तक तो पहुंच सकते हैं लेकिन आपके real सर्वर जहाँ पर सारा data store होता है वहाँ पहुंचने में उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है.

तो दोस्तों आशा करते है कि ये जानकारी आपको पसंद आई होंगी और proxy server kya hai in hindi से जुड़ी सारी information आपको मिल गयी होंगी आपको इससे ये भी पता चल गया होगा कि proxy सर्वर काम कैसे करता है और इसके क्या फायदे हैं और अगर आप भी किसी block website को खोलना चाहते हैं तो आप proxy सर्वर का इस्तेमाल करके उन्हें access कर सकते हैं

यदि आपको यह proxy server kya hai in hindi  पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये.

I hope guys like this proxy server kya hai in hindi.

DNA Kya Hota hai in Hindi | What is DNA

Spread the love

2 thoughts on “प्रॉक्सी सर्वर क्या है? | प्रॉक्सी का क्या मतलब है

Leave a Reply

Your email address will not be published.