मायावती का जीवन परिचय | Mayawati biography in Hindi

Mayawati biography in Hindi

आप सभी लोग मायावती जी के बारे में जानते होंगे, मायावती जी उत्तरप्रदेश राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री भी रह चुकी है इसलिए ये भारतीय राजनीति में एक महत्वपूर्ण भूमिका रखती हैं. इन्होंने अपने जीवन में उत्तरप्रदेश की मुख्यमंत्री के रूप में बहुत से ऐसे कार्य किये, जिसके कारण उनके फॉलोवर उन्हें आयरन लेडी भी कहते हैं लेकिन आप में से बहुत से लोगो को इनके बारे में पूरी जानकारी नही होगी इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको मायावती जी के जीवन के बारे में पूरी जानकारी देंगे.  

Mayawati biography in Hindi
Mayawati

मायावती का जीवन परिचय (Mayawati biography in Hindi)

मायावती का जन्म 15 जनवरी 1956 को नई दिल्ली में एक हिन्दू परिवार में हुआ था लेकिन इनके पिता का नाम प्रभु दास है जो उत्तरप्रदेश के गौतम बुद्ध नगर बादलपुर में एक पोस्ट ऑफिस में कर्मचारी के पद पर काम करते थे इनकी माता एक गृहणी थी और इनके भाई आनंद कुमार एक राजनेता हैं. मायावती अभी तक अविवाहित है ये अपने जीवन में अकेले रहती है.

मायावती का पूरा परिचय:-

पूरा नाम मायावती प्रभु दास
अन्य नाम बेहन जी, कुमारी मायावती, आयरन लेडी मायावती
जन्मतिथि 15 जनवरी, 1956
जन्म स्थान श्रीमती सुचेता कृपलानी हॉस्पिटल, नई दिल्ली, भारत
उम्र 61 साल
पिता का नाम प्रभु दास
माता का नाम राम रती
भाई का नाम आनंद कुमार
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर बादलपुर, गौतम बुद्ध नगर, उत्तरप्रदेश, भारत 
धर्म हिन्दू
जाति अनुसूचित जाति (एससी)
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
पेशा भारतीय राजनीतिज्ञ
राजनीतिक पार्टी बहुजन समाजवादी पार्टी (बीएसपी)
नेट वर्थ 111 करोड़ (सन 2012 में)
पसंद पढ़ना एवं लिखना
पसंदीदा राजनेता कांशी राम
राशि मकर राशि
लम्बाई 5 फुट 2 इंच
वजन 80 किलोग्राम
बालों का रंग काला
आँखों का रंग काला

मायावती ने अपनी पढाई कहाँ से पूरी की?

मायावती ने अपनी बी.ए. की पढ़ाई साल 1975 में दिल्ली के कालिंदी वीमेन कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी से पूरी की थी उसके बाद इन्होने साल 1976 में उत्तरप्रदेश के गाज़ियाबाद के वी.एम.एल.जी. कॉलेज से बी.एड किया. उसके बाद इन्होंने एल.एल.बी. की पढ़ाई करने के लिए दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया और इस तरह से उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की.

मायावती ने अपना करियर कैसे शुरू किया?

मायावती ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद दिल्ली की इन्द्रपुरी जेजे कॉलोनी में कुछ छात्रों को पढ़ाते हुए एक टीचर के रूप में कार्य करना शुरू कर किया, और इसके साथ-साथ वे आईएएस की परीक्षा की तैयारी भी कर रही थीं साल 1977 में उनकी मुकालात राजनेता कांशीराम से हुई और फिर वे मायावती के भाषण एवं विचारों से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने उन्हें राजनीति में शामिल होनी की बात कही,

मायावती जी भी कांशीराम के विचारों से प्रभावित थी और उन्होंने राजनीति में शामिल होने का फैसला किया. इसके बाद कांशीराम ने साल 1984 बहुजन समाजवादी पार्टी की स्थापना की और इस पार्टी के एक सदस्य के रूप में मायावती को शामिल किया इसके बाद साल 1989 में मायावती पहली बार संसद की सदस्य के रूप के चुनी गयी और लोकसभा में बिजनोर निर्वाचन क्षेत्र के लिए एक प्रतिनिधि बन गई. मायावती पहली बार साल 1994 में राज्य सभा या संसद के उच्च सदन की सदस्य बनीं.

मायावती उत्तरप्रदेश की मुख्यमंत्री के रूप में कब चुनी गयी?

साल 1994 में राज्यसभा की सदस्य चुनी जाने के बाद जून साल 1995 में मायावती ने समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया और उत्तरप्रदेश राज्य में मुख्यमंत्री के कार्यभार को संभाला. इस तरह मायावती पहली ऐसी दलित महिला बनी जो किसी राज्य की मुख्यमंत्री बनी, वैसे तो मायावती ने इस पद पर बहुत कम समय ही काम किया. इसके बाद साल 1996 से साल 1998 तक मायावती ने उत्तरप्रदेश राज्य विधानसभा में विधायक के रूप में कार्यरत रही और फिर साल 1997 में मायावती को दूसरी बार उत्तरप्रदेश की मुख्यमंत्री बनने का मौका मिला.

लेकिन इस बार भी मायावती ने कुछ महीनों तक ही इस पद पर काम किया. इसके बाद साल 2002 में मायावती ने फिर से विधानसभा चुनाव में अपनी बहुजन समाजवादी पार्टी का बीजेपी के साथ गठबंधन किया और वे तीसरी बार यूपी की मुख्यमंत्री बनी और फिर साल  2003 में बीजेपी ने बीएसपी के साथ अपने समर्थन को वापस ले लिया, जिसके कारण एक बार फिर मायावती को अपना मुख्यमंत्री पद त्यागना पड़ा.

साल 2003 में बहुजन समाजवादी पार्टी के संस्थापक और अध्यक्ष कांशीराम का देहांत हो गया, जिसके बाद मायावती को पार्टी का अध्यक्ष चुना गया, उसके बाद साल 2007 में हुए विधानसभा चुनाव में मायावती फिर एक बार जीत गयी और चौथी बार मुख्यमंत्री पद को ग्रहण किया और इस बार इन्होंने अपने मुख्यमंत्री पद के पहली बार कार्यकाल को पूरा किया, उस दौरान वे संसद में राज्यसभा सदस्य के पद पर भी काम कर रही थीं.

इसे भी पढ़ें?

नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय

शहनाज गिल का जीवन परिचय

नितिन गडकरी का जीवन परिचय

श्रेया घोषाल का जीवन परिचय (पति, उम्र, नेटवर्थ)

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (Mayawati biography in Hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको मायावती जी के जीवन के बारे में पूरी जानकारी दी है

हमारी ये (Mayawati biography in Hindi) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.