मशीन लर्निंग क्या और कैसे काम करता है

machine-learning kya hai

मशीन लर्निंग आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का एक एप्लीकेशन है ये एक बहुत ही पावरफुल टेक्नोलॉजी है मशीन लर्निंग मशीन्स को हिस्टोरिकल डाटा सेट्स के द्वारा पैटर्न्स आइडेंटीफाई और एनालाइज करने में मदद करती है और उसी डाटा बेस पर ये सिस्टम्स बिना किसी ह्यूमन सुपर विज़न के क्लासिफिकेशन्स और डिसीजन्स लेना सीखते हैं

जिस प्रकार से हम लोग एक्सपीरियंस से सीखते है और उससे फ्यूचर के लिए बेहतर और इम्प्रूवड डिसीजन्स लेते हैं ठीक उसी प्रकार मशीन लर्निंग कंप्यूटर सिस्टम्स को ट्रेंड करती हैं जिससे पहले से एक्स्जेस्ट डाटा से जानकारी लेकर फ्यूचर में और बेहतर परफॉर्म कर सकें.

machine-learning kya hai

आज के टाइम में आप इसे मशीन लर्निंग और आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का डिजिटल दौर कह सकते हैं फ्यूचर में भी आर्टिफीसियल डिवाइसेस पूरे वर्ल्ड में बहुत ही ज्यादा देखने को मिलेंगी साल 2030 तक आर्टिफीसियल इंटेल्लिजेंस में 2.3 मिलियन तक देखने को मिलेगा.

तो अगर आप इस फील्ड में जाना चाहते हैं और इसमें जॉब पाना चाहते हैं तो ये ऑप्शन आपके फ्यूचर के लिए बेस्ट ऑप्शन हो सकता है इसीलिए आज हम आपको बतायेंगे कि मशीन लर्नर इंजीनियर बनने के लिए आपको क्या करना चाहिये और इसके लिए आपके पास कौन कौन सी क्वालिफिकेशन्स होनी चाहिये.

Table of Contents

मशीन लर्निंग इंजीनियर कौन होते हैं?

मशीन लर्निंग इंजीनियर एक प्रकार के प्रोग्रामर होते हैं जो ऐसे सिस्टम्स और मशीन को बनाते हैं जिसमे सीखने की एबिलिटी के साथ-साथ बिना किसी विशेष प्रोग्रामिंग के ली गयी जानकारी को अप्लाई करना भी अच्छे से आता है ऐसे इंजीनियर ऐसे कोर्स और प्रोग्राम डेवेलोप करते हैं जो मशीन्स को किसी पर्टिकुलर सिचुएशन में एक्श्न्स लेने की परमिशन्स देते हैं.

मशीन लर्निंग इंजीनियर का रोल्स और रेस्पोंस्बिलिटी क्या होती है?

कंप्यूटर के फंडामेंटल्स जैसे- कंप्यूटर आर्किटेक्चर, डाटा स्ट्रक्चर और अल्गोरिथम का प्रयोग करना, कैलकुलेशन्स और कम्प्यूटेशन्स के लिए मैथमेटिकल स्किल्स का प्रयोग करना और प्रोग्रामिंग बेस्ड अल्गोरिथम के साथ काम करना, प्रोजेक्ट्स रिजल्ट्स तैयार करना, कोर्ट प्रड्यूज करने के लिए डाटा पाइप लाइंस और इन्फ्रास्ट्रक्चर को मैनेज करना

डाटा के साथ कोलाबुरेट करके बहुत सारे डाटा मॉडल पाइप लाइंस को डेवेलोप करना, डाटा इवैल्यूएशन और डाटा स्ट्रेटेजी का प्रयोग करके पैटर्न्स को आईडेंटिफाई करना, मशीन लर्निंग लाइब्रेरीज और एल्गोरिथम्स को अप्लाई करना, स्ट्रक्चर्ड एंड अनस्ट्रक्चर्ड डाटा के लार्ज और काम्प्लेक्स सेट्स को एनालाइज करना आर्गेनाइजेशन के इन्फ्रास्ट्रक्चर को इम्प्रूव करने के लिए रिसर्च करना और लेटेस्ट टेच्निक को इम्प्रूव करना आदि.

इन सभी रेस्पोंस्बिलिटीस को पूरा करने वाला एक मशीन लर्निंग इंजीनियर बनने के लिए आपके पास कई सारी स्किल्स की नॉलेज होना चाहिये जैसे- सी, सी++, पाइथन , जावा और आर जैसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की जानकारी होनी चाहिये

इसी के साथ-साथ आपको डिस्ट्रीब्यूटेड कंप्यूटेड की नॉलेज की बेसिक नॉलेज, कम से कम एक यूनिक्स टूल में वर्क एक्सपीरियंस अल्गोरिथ्म्स और एप्लाइड मैथमेटिक्स अल्गोरिथम और मॉडल्स की नॉलेज और हेडूप और इसके एप्लीकेशन्स की जानकारी होनी जरूरी है.

मशीन लर्निंग में आपके लिए कौन-कौन से जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस है?

मशीन लर्निंग में आपके लिए बहुत सारे जॉब ऑप्शन्स है क्युकी पूरे वर्ल्ड को टेक्नोलॉजी में आगे बढ़ने में ऐसे एक्सपर्ट्स की जरूरत होती हैं जो अपने फील्ड में एक्स्ट्रा आर्डिनरी हो और ऐसे में अगर आप अपने फील्ड में एक्सपर्ट है तो आपको लीडिंग आर्गेनाइजेशन्स से ऑफर मिल सकते हैं

मशीन लर्निंग की पॉपुलैरिटी ने इसे एक पॉपुलर कोर्स बना दिया है इसीलिए बहुत से इंस्टिट्यूटशन्स ये कोर्सेज ऑफर करने लगे हैं इंडिया के मोस्ट रेपुटेट इंस्टिट्यूट जैसे- इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आइआइटी), इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट्स(आइआइएम), नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी(एनआईटी) भी इस कोर्स को ऑफर करते हैं

ये कोर्स केवल टेक्निकल और साइंटिफिक इंस्टिट्यूट और इंस्टिट्यूट तक ही सीमित न होकर बहुत से एजुकेशनल इंस्टिट्यूट से ये कोर्स मिल जायेंगा.

अगर आप चाहे तो इस कोर्स को ऑनलाइन भी कर सकते है और समर प्रोग्राम भी ज्वाइन कर सकते हैं ये कोर्स ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट्स लेवल पर करवाने के साथ ही आप इसमें कई तरह के डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्सेज भी कर सकते हैं आप चाहे तो मशीन लर्निंग में स्पेशलाइजेशन करके इंजीनियरिंग की डिग्री ले सकते हैं

जैसे-बीटेक ,एम टेक एंड एमएससी इन मशीन लर्निंग. मशीन लर्निंग कोर्स के अंडरग्रेजुएट्स कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको साइंस स्ट्रीम से 12th पास करना जरूरी है बाकि का क्राइटेरिया कॉलेजेज और इंस्टिट्यूटस पर निर्भर करेगा कुछ कॉलेज एंट्रेंस टेस्ट बेस पर इसमें एडमिशन देते है और कुछ मेरिट बेस पर इस कोर्स में एडमिशन देते हैं

अगर आप मशीन लर्निंग कोर्स में पोस्ट ग्रेजुएट्स कोर्स को करना चाहते हैं तो आपके पास आर्टिफीसियल रिलेटेड कोर्स में बैचेलर डिग्री होना कम्पलसरी है और इसके लिए गेट जैसे एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट किये जाते हैं.

इंडिया के कुछ बेस्ट कॉलेजेज जहाँ से आप मशीन लर्निंग का कोर्स कर सकते हैं

एमआईएसबी बोच्कोनी मुंबई, एस पी जैन स्कूल ऑफ ग्लोबल मैनेजमेंट पुने, नर्सीमोंजी इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज मुंबई, ग्रेट लेक्स इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट चेन्नई/गुणगांव /बंगलुरु, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) कानपुर, इंडियन स्कूल ऑफ बिज़नस (आईएसबी) हैदराबाद, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट(आइआइएम) बंगलोर, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (सी यू) चंडीगढ़, लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी(एल पी यू) पंजाब और इंस्टिट्यूट ऑफ फाइनेंस एंड इंटरनेशनल मैनेजमेंट (आईएफआईएम) बेंगलुरु आदि.

हाइयेस्ट पेड और मोस्ट पॉपुलर मशीन लर्निंग जॉब कौन-कौन सी हैं ?

मशीन लर्निंग इंजीनियर, लीड मशीन लर्निंग इंजीनियर, रिसर्च साइंटिस्ट, डाटा साइंटिस्ट, ए एल इंजीनियर, ए एल एंड डीप लर्निंग रिसर्चर, मशीन लर्निंग एक्सपर्ट, मशीन लर्निंग साइंटिस्ट, सॉफ्टवेयर इंजीनियर और सीनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर आदि.

मशीन लर्निंग को हायर करने वाली कुछ टॉप कम्पनीज के नाम-

गूगल, अमेज़न, एप्पल, ड्रापबॉक्स, डेलोइट, मकेंसी और पिन्टेरेस्ट आदि.

मशीन लर्निंग में काम करने वाले इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

इंडिया में मशीन लर्निंग में काम करने वाले इंजीनियर की वार्षिक आय 7 लाख रूपये है और ये सैलरी आपको आपके एक्सपीरियंस, स्किल्स और कंपनी पर निर्भर कर सकती हैं अगर आपको मशीन लर्निंग में अच्छा एक्सपीरियंस है तो आपकी सैलरी 15 लाख तक भी हो सकती है.

Software कैसे बनता है? | सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं?

Bitcoin क्या है | Bitcoin कैसे काम करता है

Kotlin क्या है | Kotlin Programing Language कैसे सीखें?

आज आपने क्या सीखा?

हमे उम्मीद है कि हमारा ये (machine learning kya hai) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी यूजफुल भी रहा होगा, इसमें हमने आपको मशीन लर्निंग कोर्स क्या है ये कोर्स आप कहाँ से कर सकते हैं और इसमें काम करने वाले इंजीनियर की सैलरी कितनी हैं,

आपको हमारी ये (machine learning kya hai) जानकारी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो भी इस बारे में जानकारी चाहता हो उसके साथ भी इस आर्टिकल को जरूर शेयर कीजियेगा .

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.