JEE एग्जाम क्या होता है? | JEE का फुल फॉर्म क्या होता है?

JEE Exam kya hota hai hindi

JEE एग्जाम का फुल फॉर्म नेशनल टैलेंट सर्च एग्जामिनेशन होता है आप में से बहुत से स्टूडेंट्स ने इस एग्जाम को पास किया होगा लेकिन कुछ स्टूडेंट्स ऐसे भी होंगे जिन्हें इसके बारे में जानकारी नही होगी इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको JEE एग्जाम से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन देंगे.

JEE का फुल फॉर्म क्या होता है?

JEE का फुल फॉर्म Joint Entrance Examination होता है अगर आप किसी इंजीनियरिंग कॉलेज में admission लेना चाहते है तो आपको JEE का एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है.

JEE एग्जाम क्या होता है?

अगर आप एक इंजीनियर बनना चाहते है तो आपको BE या B.Tech की डिग्री लेनी होती है और इसके लिए आपको इंजीनियरिंग कॉलेज से पढाई करनी होगी

JEE Exam kya hota hai hindi

तो इन इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए नेशनल लेवल पर जो एग्जाम कराया जाता है उस एग्जाम को ही JEE एग्जाम कहा जाता है इस एग्जाम में आपको जो मार्क्स मिलते है उसी पर डिपेंड करता है कि आपको कौन से कॉलेज में एडमिशन मिलेगा.

JEE एग्जाम देने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

JEE एग्जाम देने के कैंडिडेट का 12th पास होना जरूरी होता है इसके अलावा अगर कैंडिडेट ने कोई डिप्लोमा किया है तो वह भी इस एग्जाम को दे सकता है क्युकी यह एग्जाम BE या B.Tech कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए कराया जाता है इस एग्जाम को पास करके आप इंजीनियरिंग की फील्ड में आगे बढ़ सकते हैं.

JEE एग्जाम का प्रोसेस क्या होता है?

JEE एग्जाम साल में 2 बार कंडक्ट किया जाता है और यह एग्जाम CBSE द्वारा कंडक्ट कराया जाता है इसके मुख्यतः 2 प्रकार होते है पहला JEE Main और दूसरा JEE Advance .

JEE Main

इसमें आपके नार्मल क्वेश्चन्स होते है जो 10th और 12th के सिलेबस पर आधारित होते है इसमें आपके 300 नंबर के कुल 90 प्रश्न होते है जिसमे से फिजिक्स के 30 प्रश्न, केमिस्ट्री के 30 प्रश्न और मैथ के 30 प्रश्न होते है और इसमें ¼ नेगेटिव मार्किंग होती है. जो स्टूडेंट्स इंजीनियर बनना चाहते है उन्हें सबसे पहले JEE मेन्स का एग्जाम पास करना होता है जिन स्टूडेंट्स ने अपनी पढ़ाई फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ से की है वही इस एग्जाम को दे सकते हैं. अगर इस एग्जाम में आप 120 से ज्यादा नंबर लाते है तो आप JEE Advance का एग्जाम दे सकते है यह एग्जाम ऑफलाइन कराया जाता है यह पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होता है.

JEE Advance

इसमें आपके थोड़ा कठिन प्रश्न पूछे जाते है जो 10th और 12th के सिलेबस पर आधारित होते है इसमें आपके 366 नंबर के कुल 54 प्रश्न होते है और इसमें नेगेटिव मार्किंग होती है.

इसे भी पढ़ें?

CUET एग्जाम क्या होता है?

GMAT एग्जाम क्या होता है?

CMAT एग्जाम क्या होता है?

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (JEE Exam kya hota hai) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको JEE एग्जाम से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन दी है

हमारी ये (JEE Exam kya hota hai) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो कैंडिडेट JEE एग्जाम के बारे में जानकारी चाहते है उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.