आईएएस और आईपीएस में कौन बड़ा है

IS aur IPS mein antar kya hai

अगर आप IAS aur IPS mein antar kya hai के बारे में पूरी जानकरी चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े, इस आर्टिकल में IAS aur IPS से रिलेटेड पूरी जानकरी दी है.

आईएएस और आईपीएस में कौन बड़ा है?

IS aur IPS mein antar kya hai

IAS और IPS अधिकारी का पद सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण पद होता है एक जिले में 1 से ज्यादा IAS तथा IPS अधिकारी तैनात होते हैं लेकिन एक जिले में सबसे important position होती है DM और SSP की, किसी भी जिले के विकास के लिए दोनों पदों का एक साथ काम करना बहुत जरूरी होता है.

आज इस article में हम आपको बतायेंगे कि एक IAS और IPS officer में क्या difference होता है? आइये अब recruitment की बात कर लेते हैं तो दोस्तों IAS तथा IPS अधिकारी का चयन UPSC की civil service exam द्वारा होता है.

Apprentice अपनी prefer service को upsc के detailed application form में भर देते हैं तथा results आने के बाद उनकी rank के अनुसार उन्हें service provide की जाती है IAS join करने के बाद एक अभ्यर्थी civil service के exam नही दे सकता है लेकिन IPS बनने के बाद अभ्यर्थी civil service का exam दे सकता है.

अब हम बात करते है Cadre Controlling Authority के बारे में, IAS तथा IPS दोनों ही all India services हैं लेकिन दोनों की cadre controlling authority अलग-अलग होती है IAS की cadre controlling authority होती है.

Ministry of Personel, जो कि प्रधानमंत्री के अधीन होती है जबकि IPS की cadre controlling authority होती है Home Ministry की, जो कि गृहमंत्री के अधीन होती है.

IAS तथा IPS की शुरुआती 3 महीने की training जिसे foundation कोर्स भी कहते हैं Lal Bahadur Shastri राष्ट्रीय प्रशासन Academy में ही होती है उसके बाद IPS को Sardar Vallabhbhai Patel राष्ट्रीय Police Academy हैदराबाद भेज दिया जाता है.

जहाँ वे अपनी police training लेते हैं IAS training में top करने वाले candidate को Medal मिलता है जबकि IPS training में top करने वाले candidate को Sword of Honour मिलता है अगर देखा जाय तो IPS की training ज्यादा कठिन होती है और ज्यादा मेहनत मांगती है इसमें घुड़सवारी, परेड, सस्त्रविद्या इत्यादि शामिल होते हैं.

अब बात करते हैं Power और Responsibilities की, IAS तथा IPS दोनों services का job profile बहुत ही Brod होता है तथा दोनों ही बहुत ही powerful post होते हैं लेकिन एक IAS officer DM के रूप में सबसे ज्यादा powerful होता है.

IPS officer के पास केवल अपने ही विभाग की जिम्मेदारी होती है जबकि IAS officer के पास पूरे district की departments की जिम्मेदारी होती है एक IAS officer police विभाग के साथ-साथ अन्य बहुत सारे विभागों हेय होता है.

district में police व्यवस्था की जिम्मेदारी, शहर में कर्फ्यू, धारा 144 इत्यादि का order एक DM ही ले सकता है और साथ ही साथ भीड़ पर फायरिंग का order भी DM ही दे सकता है एक IPS officer भीड़ पर फायरिंग करने का order नही दे सकता है.

इतना ही नही police officers के transfers के लिए भी DM के approval की आवश्यकता पड़ती है एक प्रोटोकॉल के अनुसार यदि IPS officer और IAS officer एक साथ meeting पर जाते हैं.

तो IPS officer को IAS officer को salute करना होगा लेकिन ऐसा तभी होगा जब IPS officer ने अपनी पूरी uniform पहनी हो, अगर एक IPS ने अपनी cap नही पहनी होती है तो IPS officer IAS officer को salute करने के लिए बाध्य नही होता है.

इसीलिए ऐसा ज्यादातर देखा गया है कि जब IPS officer और IAS officer एक साथ किसी meeting पर जाते हैं तो IPS officer अपनी cap ज्यादातर नही पहनते हैं कुछ राज्यों ने अपने कुछ शहरों में Commisionerate System लागू किया है इस system के अनुसार police officers के पास ज्यादा अधिकार होते हैं लेकिन फिर भी एक IAS officers की तुलना में ये कम ही होते हैं.

आइये अब बात करते है Scope of Duty की, डीएम का कार्य क्षेत्र, Land Records, Revenue, Agriculture इत्यादि district की सभी departments में होता है आइये अब हम आपको इनकी salary के बारे में बताते हैं भारत में IPS officer की salary 7वें वेतन आयोग के recommendations के बाद से काफी बेहतर हुई है.

IPS का वेतन 56,100 प्रति माह से लेकर 2,25,000 प्रति माह तक हो सकता है ये seniority के आधार पर अलग-अलग होता है IAS की salary भी 7वें वेतन आयोग के recommendation से काफी बेहतर हो गयी है IAS का वेतन 56,100 प्रति माह से लेकर 2,50,000 प्रति माह तक हो सकती है ये भी seniority के base पर अलग-अलग होता है.

IAS की salary IPS से ज्यादा होती है अब इनकी uniform के बात करें तो uniform IAS तथा IPS officers को अलग करती है जहाँ एक IAS officer के लिए कोई भी निर्धारित uniform नही होती है लेकिन उन्हें हर official event पर फॉर्मल कपड़े पहनने होते है वही IPS officers के लिए निर्धारित uniform होती है.

ये uniform एक IPS officers के लिए promotions के मुताबिक बदलती जाती है rank के आधार पर एक IPS officer को सितारे, अशोक की लाट और उसके साथ तलवार लगानी पड़ती है आम जनता एक IPS officer को IAS की comparison में ज्यादा आसानी से पहचान लेती है उनकी uniform के जरिये.

Top Posts, एक IAS officers के लिए भारत में top post Cabinet Secretary होती है ये भारत के सर्वोच्च पद है जिस पर सिर्फ एक IAS officer ही तैनात किया जा सकता है state में भी top post chief secretary की होती है जो एक IAS officer होता है.

यहाँ तक कि एक Home Secretary के पद पर भी IAS officer को ही तैनात किया जाता है IPS अपने राज्य का Director General of Police बन सकता है केंद्र सरकार में एक IPS officer CBI, IB and RAW Director बन सकता है इसके साथ-साथ National Secretary Adviser के पद पर भी IPS की तैनाती की जाती है.

हम आशा करते हैं कि इस article में IAS aur IPS mein antar kya hai दी गयी knowledge आपको पसंद आई होंगी और अपने दोस्तों में share कीजिये.

I hope guys like this IAS aur IPS mein antar kya hai.

इसे भी पढ़ें?

आईएएस की पावर क्या होती है

IPS Officer कैसे बनें

PLC Programming in Hindi 

Spread the love

6 thoughts on “आईएएस और आईपीएस में कौन बड़ा है

    1. जी बहुत बहुत धन्यवाद आपका। ऐसी ही जानकारी के लिए आप हमारे ब्लॉग के article पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.