भारत में हेलीकॉप्टर कैसे खरीदें? | हेलीकॉप्टर कैसे खरीदें?

India me Helicopter kaise kharide

इंडिया में सभी लोग साईकिल, मोटरसाईकिल या अन्य कोई गाड़ी खरीदने के प्रोसेस के बारे में जानते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए आपको क्या करना होगा, बहुत कम लोगों को ही इसके बारे में पता होगा, इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको बतायेंगे कि हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए आपको क्या करना होगा और इससे रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

इंडिया में हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए क्या करे?

कुछ देश ऐसे है जहाँ पर आप आसानी से हेलीकॉप्टर खरीद सकते है लेकिन इंडिया में इसे खरीदना बहुत कठिन है इसे खरीदने के बाद भी काफी खर्चा आता है जैसे- मेंटेनेंस चार्ज, पायलेट चार्ज और भी कई तरह के चार्जेज. और इसका कोई पार्ट खराब हो जाने पर इसे अलग से मंगवाना पड़ता है और सबसे मुख्य बात है कि अगर आप हेलीकॉप्टर चलाना नही जानते हैं तो आपको पायलेट रखना पड़ेगा उसे भी सैलरी देनी होगी.

India me Helicopter kaise khride

वर्ल्ड में कुछ ऐसे हेलीकॉप्टर भी है जो काफी हल्के होते हैं जैसे- मास्कीटो हेलीकॉप्टर, ये हेलीकॉप्टर बहुत ही हल्के और साइज़ में छोटे होते है जिस कारण ये ज्यादा ऊंचाई पर नही उड़ते हैं. इसमें सिर्फ पायलेट ही बैठ सकता है और कोई दूसरा व्यक्ति नही बैठ सकता है इसे चलाना काफी आसान होता है इसे चलाने के लिए लाइसेंस की जरूरत नही होती है. ऐसे हेलीकॉप्टर की कीमत लगभग 30 लाख से 90 लाख रूपये तक होती है.

किसी प्राइवेट हेलीकॉप्टर को खरीदने के लिए स्पेशल परमिशन लेना होगा जिसमे कई सारे प्रोसेस कराए जाते है.

जैसे- आपको नगर विमानन मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ़ सिविल एविएशन) की वेबसाइट पर जाना है और उसमे दिया गया फॉर्म आपको फिल करना होगा और उसके बाद मंत्रालय में जाकर NOC के लिए आवेदन करना होगा जहाँ पर आपको कई सारी जानकारियाँ देनी होती है और इसके बाद जब मंत्रालय आपके द्वारा दी गयी जानकारी से सन्तुष्ट होता है तो आपको हेलीकॉप्टर खरीदने के प्रोसेस में रजिस्ट्रेशन के लिए DGCA (Directorate General of Civil Aviation) की परमिशन लेनी होगी. और आपको डीजीसीए को भी कुछ जानकारी देनी होती है.

आपको हेलीकॉप्टर के रखरखाव के बारे में भी जानकारी देनी होती है, इन सभी प्रोसेस के बाद आपको हेलीकॉप्टर खरीदने की परमिशन मिल जाती है. अगर आप एक प्राइवेट हेलीकॉप्टर खरीद रहे हों तो इसके लिए आपको एक पायलेट भी रखना होगा. और उसे हर महीने सैलरी भी देनी होगी. एक पायलेट की सैलरी उसके एक्सपीरियंस पर भी निर्भर करती है.

कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो हेलीकॉप्टर चलाना जानते हैं तो उन्हें पायलेट रखने की जरूरत नही होती है लेकिन अगर आप सही से हेलीकॉप्टर चलाना नही जानते है तो आपको पायलेट रखना ही पड़ेगा. हेलीकॉप्टर को एक नॉर्मल मैदान में उतारा जा सकता है अगर आप अपना हेलीकोप्टर किसी मैदान में लैंड करवाते है तो आपको कोई चार्ज नही देना होगा, लेकिन अगर आप हेलीकॉप्टर को किसी एअरपोर्ट पर लैंड करवाते है तो आपको चार्ज देना पड़ेगा. बड़े-बड़े इंटरनेशनल एअरपोर्ट पर ये चार्ज बहुत ही ज्यादा है. अगर आप अपने हेलीकॉप्टर को मेंटेन रखते हैं तो आपका मेंटेनेंस खर्च लगभग 2 से 8 लाख रूपये आएगा.

अगर प्लेन उड़ाते समय पायलेट सो जाये तो क्या होगा?

दुनिया की सबसे पावरफुल बंदूकें कौन सी है?

आज आपने क्या सीखा?

हम उम्मीद करते हैं कि आज का हमारा ये आर्टिकल (India me Helicopter kaise kharide) आपको काफी इंटरेस्टिंग लगा होगा इसमें हमने आपको इंडिया में हेलीकॉप्टर खरीदने से रिलेटेड पूरी जानकारी दी है.

हमारी ये (India me Helicopter kaise kharide) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर भी कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.