IIT क्या है और कैसे करे? | What is IIT in hindi

IIT kya hai in hindi

इंजीनियरिंग की एजुकेशन प्राप्त करने के लिए आइआइटी इंस्टिट्यूट सबसे अच्छा माना जाता है आइआइटी इंस्टिट्यूट में प्रवेश पाना जितनी अच्छी बात होती है ये उतना ही कठिन भी होता है इसमें एंट्री के लिए आपको काफी मेहनत करनी पड़ती है और इसीलिए हर साल लाखों स्टूडेंट्स मेहनत करते हैं अगर आप भी इंजीनियरिंग के फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आज हम आपको बतायेंगे कि IIT क्या है? और इससे रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

IIT क्या है? (What is IIT in hindi)

IIT kya hai in hindi

IIT (Indian Institute of Technology) को  भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भी कहा जाता  हैं. आइआइटी की परीक्षा हर साल आयोजित की जाती है. ये स्नातक के लिए होता है. देश में कुल 23 आइआइटी कॉलेजेज हैं जिनमे एंट्री एग्जाम क्वालीफाई करने के बाद होती है यहाँ से इंजीनियरिंग करके बहुत से लोग करोड़ों का पैकेज पाते हैं. आइआइटी कॉलेज के द्वारा अच्छे-अच्छे इंजीनियर बनाये जाते हैं और वो देश-विदेश में जाकर काफी अच्छा पैसा कमाते हैं आईआईटी परीक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ का क्वेश्चन पेपर होता है और आइआइटी परीक्षा की तैयारी के लिए बहुत से प्रशिक्षण केंद्र है जिनमे जा करके आप तैयारी कर सकते हैं.

IIT करने के क्या फायदे हैं

गेट रेस्पेक्ट  

यानि कि इज्जत मिलना अगर आप आइआइटी करते हैं और आपकी फॅमिली में या दोस्तों को इसके बारे में पता चलता है तो आप उनके और अन्य लोगों के बीच में काफी इज्जत पाते हैं आपको काफी सम्मान मिलता है.

गुड फैसिलिटी

आइआइटी के माध्यम से आपको काफी अच्छी  सुविधाएँ भी दी जाती हैं आपको पढ़ने के लिए अच्छी लैब मिलती है और कंप्यूटर सेंटर की सुविधा भी मिलती है.

लर्न मोर थिंग्स

आईटीआई में स्टूडेंट्स को सिर्फ इंजीनियरिंग रिसर्च के अलावा बहुत सी चीजें सीखने को मिलती हैं आपको मैनेजमेंट फाइनेंस और सोशल स्किल्स के बारे में भी सिखाया जाता है.

प्रोवाइड फ्री बेनिफिट

आपको आइआइटी कैंपस के प्राइवेट रेस्टोरेंट में 10 से 15% डिस्काउंट मिलता है और फ्री डॉक्टर कंसल्टेशन की सुविधा भी मिलती है.

इजी प्लेसमेंट

सबसे अच्छा है आइआइटी करने के बाद आपको आसानी से एक अच्छी नौकरी मिल जाती है और आपका अच्छी जगह प्लेसमेंट हो जाता है.

IIT के लिए योग्यता क्या होनी चाहिये?

12वीं कक्षा के अपने बोर्ड एग्जाम में टॉप 20 फीसदी अंक प्राप्त करने वाले स्टूडेंट इस परीक्षा में जा सकते है अभी इसके लिए 75 फीसदी अंक अनिवार्य हैं ये समय समय पर बदलता रहता है और ये देश के सभी बोर्ड्स के मूल्यांकन के आधार पर तय किया जाता है.

IIT करने के लिए ऐज क्या होनी चाहिए?

जिन लोगों का जन्म 1-10-1994 या उसके बाद का हो तो वह 2019 का एग्जाम दे सकते हैं इसके लिए अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और विकलांग को कुछ छूट भी दी जाती है.

IIT करने के लिए कितने एग्जाम कराए जाते है?

2013 से IIT की परीक्षा दो भागों में सम्पन्न करायी जाती है एक जे ई ई में तथा दूसरा JEE एडवांस . सबसे पहले अगर कोई स्टूडेंट आइआइटी में आवेदन करना चाहता है तो उसको सबसे पहले JEE मेन्स का पेपर देना होगा, JEE में क्वालीफाई हो जाने के बाद वो एडवांस के लिए आवेदन कर सकता है. लगभग हर साल डेढ़ लाख स्टूडेंट्स एडवांस एग्जाम में बैठते हैं.

IIT में एग्जाम का पैटर्न क्या होता है?

इसमें (IIT kya hai in hindi) आपको दो तरह के पेपर देने होते हैं. फर्स्ट पेपर BE और B.Tech, इसमें मैथमेटिक्स, केमिस्ट्री और फिजिक्स के 30-30 प्रश्न होते हैं और हर सवाल 4 अंको का होता है तो कुल 90 प्रश्न होते हैं और कुल पूर्णांक 360 अंको का होता है सेकंड  पेपर की बात करें तो B Arch और B planning जिसमे गणित के 30 प्रश्न होते है जो 120 नंबर के होते है और अप्टिट्यूड टेस्ट के 50 प्रश्न होते है जो 200 अंको के होते हैं और ड्राइंग टेस्ट के दो प्रश्न जो 70 अंको के होते हैं और इसका कुल समय  3 घन्टे होता है.

IIT एंट्रेंस एग्जाम  में तैयारी करने के कुछ इम्पोर्टेन्ट टिप्स

  1. IIT एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी आप जब भी शुरू करें तो अपनी तुलना किसी दूसरे से बिलकुल भी न करें केवल खुद से करें क्युकी इस बात से कोई फर्क नही पड़ता है कि कोई क्या है लेकिन आप क्या हो आपके लिए इस बात का बहुत फर्क पड़ता है इसीलिए अपना ध्यान सिर्फ और सिर्फ खुद पर फोकस करें और अपना लक्ष्य, अपना लक्ष्य बनाएं कि मुझे IIT एंट्रेंस एग्जाम की रैंकिंग में टॉप पर आना है तो बस इसी हौसले से आप खुद को आगे बढ़ाते रहिये.
  2. आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम के लिए मैथ, केमिस्ट्री और फिजिक्स के प्रश्न पूछे जाते हैं इसीलिए ध्यान रखिये कि इन सब्जेक्ट्स में आपको बेस्ट होना जरूरी है.
  3. जब भी आप तैयारी करें तो खुद का एग्जाम लें और मॉडल पेपर को निर्धारित समय पर पूरी ईमानदारी के साथ हल करें और खुद से अवलोकन करें कि आप कितना सही हैं.
  4. आपने कॉन्फिडेंस को हमेशा ऊँचा रखिये और हो सकता है आपको एक चांस में सक्नसेस मिल पाए तो ऐसी सिचुएशन में अपने हौसले को कभी नीचे न गिरने दें बल्कि अपनी गलतियों को सुधार करके आगे के लिए अपने आप को तैयार करें.
  5. किसी भी एग्जाम में निर्धारित समय ही हमारा रास्ता और दिशा तय करता है इसीलिए परीक्षा में मिलने वाले 3 घंटो का महत्व आप अच्छे से समझिये उसका कैलकुलेशन कीजिये और आपका उद्देश्य हो कि आपको इसी समय में जो मिला है यानि कि 3 घंटे में आपको सारे सवाल हल करने ही है तो बस अपने आपको उसके लिए तैयार करते रहिये.
  6. अच्छी तैयारी के लिए अच्छी नींद, अच्छा स्वास्थ्य काफी मायने रखता है इसलिए इस बातों को अच्छे से फॉलो कीजिये ताकि आपको अपने उद्देश्यों को पूरा करने में हेल्प मिले.
  7. परीक्षा की तैयारी के लिए न्यूज़, इन्टरनेट, ग्रुप चर्चा सफल छात्रों के इंटरव्यू में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है इसीलिए इन सब की मदद भी आप ले सकते हैं.
  8. सक्सेस के लिए प्लानिंग बहुत जरूरी है इसीलिये आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी के लिए भी आपको कितने घंटे पढना है क्या पढ़ना है कब क्या करना है इन सभी बातों की अच्छे से लिस्ट जरुर बना लें और इसी 100% तरीके से अमल भी करें.
  9. आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम के लिए 11th के 45% और 12th के 54% प्रश्न पूछे जाते हैं तो आप अपनी इंटर की पढ़ाई भी इसी को ध्यान में रखते हुए करें ताकि आगे आपको आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी में अच्छी हेल्प मिले.

10.आप आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम के लिए विस्तार पूर्वक अध्ययन करें और पूरे कंसंट्रेशन के साथ पढाई करें.

इसमें कैंडिडेट  3 बार कोशिश कर सकता हैं नागालैंड, उड़ीसा और मध्य प्रदेश में कुछ अलग है अगर आपको IIT का एग्जाम देना है तो आप इसके लेटेस्ट अपडेट को हमेशा देखते रहें. साल 2019 से आइआइटी की प्रवेश परीक्षा दो बार आयोजित की गयी थी, एक बार जनवरी में और एक अप्रैल के महीने में पहले एग्जाम में बैठने की अधिकतम सीमा 3 तक थी लेकिन आब ऐसा माना जा रहा है कि एक स्टूडेंट अधिकतम 6 बार इस परीक्षा में शामिल हो सकता है और ये बहुत ही अच्छी बात है तो आपको मेहनत करने के लिए, एफर्ट लगाने के लिए काफी ज्यादा मौके मिल सकते हैं.

इसे भी पढ़ें?

Civil Engineer कैसे बने? | सिविल इंजीनियर कौन होते हैं?

प्रोफेसर कैसे बनें | प्रोफेसर बनने के लिए क्या पढ़ाई करनी पड़ती है?

IFS Officer कैसे बनें? | IFS ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है?

लॉयर कैसे बनें? | वकील बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी चाहिए

आज आपने क्या सीखा?

हमे उम्मीद है कि हमारा ये (IIT kya hai in hindi) आर्टिकल आपको पसंद आया होगा और आपके लिये काफी यूजफुल होगा इसमें हमने आपको आइआइटी से रिलेटेड सभी जानकारी दी है.

अगर आप आइआइटी एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कर रहे है तो इसमें बताई गयी सभी बातों का ध्यान रखियेगा और इसी के साथ हमारा ये (IIT kya hai in hindi) आर्टिकल आपको कैसा लगा कमेंट करके जरुर बताये और ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर भी कीजिये.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *