IELTS एग्जाम क्या है? | IELTS का एग्जाम पैटर्न क्या होता है?

IELTS exam kya hai hindi

IELTS exam kya hai hindi- अगर आप किसी दूसरे देश में जाकर काम करना चाहते हैं या फिर पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट पास होगा, जिसे आइलेट्स कहा जाता है ये दुनिया का सबसे पोपुलर इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट है क्या आप इसके बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए क्युकी आज हम आपको ielts के बारे में पूरी जानकारी देंगे.

IELTS एग्जाम क्या होता है? (What is IELTS exam in hindi)

IELTS का फुल फॉर्म इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम (International English Language Testing System) होता है. ये दुनिया का सबसे पोपुलर इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट है, इस टेक्स्ट को हर साल लगभग 20 लाख लोग देते हैं. इसे उन लोगों के लिए बनाया गया है जो लोग पढ़ाई या बिज़नेस करने के लिए ऐसे देशों में जाना चाहते हैं जहाँ पर इंग्लिश लैंग्वेज का यूज किया जाता है.

IELTS exam kya hai hindi
Image Credit: Shutterstock

उदाहरण- अगर आप यूनाइटेड किंगडम की किसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेना चाहते है तो उसके लिए आपको इस टेस्ट को क्लियर करना होगा.

जब आपको अप्रोड्स में पढ़ाई करनी हो, जिसमें ielts आईडीपी इंडिया फारेन कंट्री के इंस्टिट्यूट में एडमिशन लेने में आपकी मदद करेगा, आईडीपी वर्ल्ड की लीडिंग इंटरनेशनल एजुकेशनल आर्गेनाइजेशन्स में से एक है जो आस्ट्रेलिया, यूएसए, कनाडा, न्यूजीलैंड, और यूनाइटेड किंगडम में स्टूडेंट प्लेसमेंट ऑफर करती है. इस एग्जाम को आप तब भी दे सकते हैं जब आप किसी ऐसे देश में जाना चाहते हैं जहाँ पर विशेष रूप से इंग्लिश बोली जाती हो, आस्ट्रेलिया, यूएसए, कनाडा, न्यूजीलैंड, और यूनाइटेड किंगडम में एमिग्रेशन्स के लिए आपको इस एग्जाम को क्लियर करना होगा, क्युकी इसी के बाद ही डिसाइड किया जायेगा कि आप वहां इमिग्रेट हो पाएंगे कि नही.

इस एग्जाम को कैम्ब्रिज एक्सपर्ट्स ने डेवेलोप किया है ये एग्जाम आसानी से अवैलेबल हो जाता है और इस एक्साम को देना भी बहुत ही कन्वीनियन्स है इस टेक्स्ट को आप महीने में 4 बार दे सकते हैं. इस टेस्ट में फेस टू फेस इंटरैक्शन होता है इसीलिए इसे सबसे बेस्ट माना जाता है.

IELTS एग्जाम के लिए एलिजिबिलिटी क्या है?

इस एग्जाम को देने के लिए कैंडिडेट की ऐज 16 साल होनी चाहिए और कैंडिडेट के पास वैलिड पासपोर्ट होना चाहिए, अगर इन दोनों में से कोई भी चीज नही है तो आप इस एग्जाम को नही दे सकते हैं. इस एग्जाम को आप जितनी बार चाहे दे सकते हैं इसमें मिलने वाले मार्क्स दो साल तक वैलिड रहते है.

IELTS एग्जाम का रजिस्ट्रेशन प्रोसेस क्या है?

इसके लिए आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं या फिर आप अपने ielts की ब्रांच पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने पर आपको रजिस्टर फॉर टेस्ट सेलेक्ट करने पर आपको कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट या फिर पेपर बेस्ड टेस्ट में से किसी एक को चुनना होगा, मतलब कि अगर आप ऑनलाइन एग्जाम देना चाहे तो दे सकते है या फिर ऑफलाइन एग्जाम देना चाहे तो भी दे सकते है.

सेलेक्ट करने के बाद आपको दो मोड्यूल्स के पेपर के आप्शन मिलेंगे पहला अकाडेमिक और जनरल ट्रेनिंग. अकाडेमिक टेस्ट उनके लिए होता है जो पढ़ाई के लिए दूसरे देशों में जाना चाहते हैं या फिर काम करने के लिए अप्रोड जाना चाहते हैं और जनरल ट्रेनिंग ऐसे कैंडिडेट के लिए होता है जो ऐसी कंट्री में बसना चाहते हैं जहाँ पर अंग्रेजी प्रमुख भाषा में बोली जाती है.

मोड्यूल सेलेक्ट करने के बाद आपको टेस्ट की डेट सेलेक्ट करनी होती है अवेलेबल टाइम का आप्शन आपके सामने आ जायेगा जिसमे से आप अपने अनुसार समय चुन सकते हैं. इसके बाद आप अपने पासपोर्ट की कलर कॉपी भी अपलोड करनी होगी. इस पूरे प्रोसेस के बाद आपको टेस्ट की फीस जमा करनी होगी, जो लगभग 14 हजार रूपये होती है.

IELTS का एग्जाम पैटर्न क्या होता है?

इसमें मेन चार सेक्शन होते हैं रीडिंग, राइटिंग, लिसनिंग, और स्पीकिंग. Ielts का एग्जाम 2 घंटे 45 मिनट होता है इस एग्जाम के दो पैटर्न मतलब कि अकाडेमिक और जनरल ट्रेनिंग में लिसनिंग और स्पीनिंग सेक्शन एक जैसे होते हैं जबकि रीडिंग और राइटिंग सेक्शन अलग-अलग होते हैं. Ielts एग्जाम में कैंडिडेट का एक्सामिनर से फेस टू फेस इंटरैक्शन होता है. इस एक्शन के 3 अलग-अलग पार्ट्स होते है और तीनों रिकॉर्ड होते हैं. इस पेपर की टोटल ड्यूरेशन 11 से 14 मिनट की होती है इसके लिसनिंग सेक्शन में कैंडिडेट को इंग्लिश की रिकॉर्डिंग सुननी होती है और उससे रिलेटेड सवालों के जवाब देने होते हैं.

इस एक्शन का समय 30 मिनट होता है, इसके रीडिंग सेक्शन में अकाडेमिक और जनरल ट्रेनिंग कैंडिडेट से अलग-अलग तरह से सवाल पूछे जाते हैं और इन दोनों पैटर्न में कैंडिडेट को 60 मिनट में 40 सवालों के जवाब देना होता है और राइटिंग सेक्शन में अकाडेमिक और जनरल ट्रेनिंग के कैंडिडेट के सवाल अलग-अलग होते हैं इस एक्शन में कैंडिडेट को 60 मिनट में 2 राइटिंग टास्क पूरे करना होता है.

IELTS एग्जाम का रिजल्ट कब आता है?

इस एग्जाम का रिजल्ट आप 13 दिनों के बाद वेबसाइट पर देख सकते है.

इसे भी पढ़ें?

UPSC exam क्या है? | What is upsc in hindi

NEET exam क्या है? | NEET की तैयारी कैसे करे

Pet exam क्या है? | What is upsssc pet in hindi

आज आपने क्या सीखा?

हम आशा करते है कि हमारा ये (IELTS exam kya hai hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा इसमें हमने आपको IELTS एग्जाम से रिलेटेड पूरी जानकारी दी है, हमारी ये जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइए और जो लोग Ielts के बारे में जानना चाहते हैं उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.