DSP और ASP में किसके पास ज्यादा पॉवर होती है?

DSP aur ASP me kiske paas jyada power hoti hai in hindi

DSP aur ASP me kiske paas jyada power hoti hai in hindi- आप सभी लोग डीएसपी और एएसपी के बारे में तो जानते ही होंगे लेकिन आज इस आर्टिकल में हम आपको बतायेंगे कि डीएसपी और एएसपी में से किसके पास ज्यादा पॉवर होती है? और इनमे क्या अंतर होता है?

डीएसपी और एएसपी कौन होता है

DSP aur ASP me kiske paas jyada power hoti hai in hindi
Image Credit: Shutterstock

डीएसपी का पूरा नाम डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस होता है जिसे पुलिस उपाधीक्षक भी कहा जाता है और एएसपी का पूरा नाम असिस्टेंट सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस होता है एएसपी को सहायक पुलिस अधीक्षक भी कहा जाता है.

डीएसपी के अंडर में लगभग 3 से 4 पुलिस थाने आते हैं जहाँ पर सभी काम इनकी देखरेख में ही किये जाते हैं और अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखना होता है और एक जिले में 4 से 5 एएसपी होते हैं जिनका अलग-अलग क्षेत्र होता है और एक कांस्टेबल से डीएसपी तक सभी एएसपी के अंडर काम करते हैं अपने नीचे काम करने वाले पुलिस ऑफिसर्स के कार्यों की देखरेख करना, उन्हें दिशा निर्देश देना, उनके कार्यों की जाँच करना आदि जैसे सभी काम एएसपी द्वारा किये जाते हैं.

डीएसपी के कंधे पर तीन स्टार होते हैं और कोई भी पट्टी नही होती है जबकि एएसपी के ट्रेनिंग समय के पहले साल 1 स्टार, दूसरे साल 2 स्टार, और तीसरे साल में तीन स्टार और नीचे IPS लिखा होता है.

डीएसपी और एएसपी बनने के लिए क्या करना होता है

डीएसपी बनने के लिए राज्य लोक सेवा का एग्जाम देना होता है जिसे पास करने के बाद कैंडिडेट डीएसपी बन सकते हैं और एएसपी बनने के दो तरीके होते हैं पहला डीएसपी से प्रमोशन होने के बाद भी एएसपी बना जा सकता है और दूसरा यूपीएससी के सिविल सर्विस एग्जाम को पास करके भी आप एएसपी बन सकते हैं.

डीएसपी या एएसपी बनने के लिए कैंडिडेट का किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएट होना जरूरी है. डीएसपी का प्रमोशन एएसपी के पद पर होता है और फिर एएसपी से एसपी उसके बाद एसपी से एसएसपी और फिर एसएसपी से डीआइजी के पद पर प्रमोशन कर दिया जाता है जबकि एएसपी का प्रमोशन होकर एडिशनल एसपी, और फिर एसपी, उसके बाद एसपी से एसएसपी, उसके बाद डीआइजी और फिर डीआइजी से प्रमोशन करके आईजी बना दिया जाता है.

डीएसपी और एएसपी की सैलरी के क्या अंतर होता है

डीएसपी को प्रतिमाह 65 हजार से 85 हजार रूपये के लगभग सैलरी मिलती है और एएसपी को प्रतिमाह 75 हजार रूपये से 95 हजार रूपये तक सैलरी मिलती है.

एएसपी का पद डीएसपी के पद से उच्च होता है जिसके कारण एएसपी के पास डीएसपी से ज्यादा पॉवर होती है एएसपी अपने नीचे काम करने वाले डीएसपी को दिशा निर्देश दे सकता है और डीएसपी को एएसपी का ऑडर मानना पड़ता है.

इसे भी पढ़े?

ASP कैसे बनें

Air Hostess कैसे बनें

SDM kaise bane

पुलिस कांस्टेबल से दरोगा कैसे बनते हैं

आज आपने क्या सीखा?

हम उम्मीद करते हैं कि हमारा ये (DSP aur ASP me kiske paas jyada power hoti hai in hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी यूजफुल भी होगा, क्युकी इसमें हमने आपको डीएसपी और एएसपी में किसके पास ज्यादा पॉवर होती है इसके बारे में पूरी जानकारी दी है, हमारी ये जानकारी आपको किसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ शेयर भी कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.