CDPO कैसे बनें? | CDPO का फुल फॉर्म क्या होता है?

cdpo kaise bane in hindi

CDPO का पूरा नाम चाइल्ड डेवलपमेंट प्रोजेक्ट ऑफिसर होता है आप मे से बहुत से स्टूडेंट ऐसे होंगे जो सीडीपीओ ऑफिसर बनना चाहते है लेकिन उन्हें इसके बारे मे पूरी जानकारी नहीं होगी इसीलिए आज इस आर्टिकल मे हम आपको CDPO बनने से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन देंगे.

CDPO का फुल फॉर्म क्या होता है?

CDPO का पूरा नाम Child Development Project Officer (बाल विकास परियोजना अधिकारी) होता है सीडीपीओ एक ब्लॉक स्तर का अधिकारी होता है.

CDPO ऑफिसर का काम क्या होता है?

CDPO ऑफिसर का काम महिलाओं और बच्चों के शारिरिक विकास के लिये काम करना, इनके क्षेत्र मे आने वाले सभी 6 साल के बच्चे, गर्भवती महिलाएं स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए समय-समय पर कार्य करते रहना, जिससे महिलाएं अपने और अपने बच्चे के स्वास्थ्य से सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सके, उनकी जरूरतों को जानना और पूरा करना, योजना का लाभ लेने वाली महिलाओं से उनका फीडबैक लेना.

cdpo kaise bane in hindi

महिला और बाल विकास के लिए चलाई जाने वाली सरकारी नियमों को ज़मीनी स्तर पर लागू करवाना और उसकी रिपोर्ट बनाकर अपने उच्च अधिकारियों को भेजना आदि काम एक सीडीपीओ द्वारा किये जाते हैं. अपने क्षेत्र मे आने वाले सभी आंगनबाड़ी केंद्र का समय-समय पर निरीक्षण करना आदि.

CDPO ऑफिसर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

CDPO ऑफिसर बनने के लिए कैंडिडेट का किसी भी सब्जेक्ट से ग्रेजुएट पास होना जरूरी होता है लेकिन अगर आपने ग्रेजुएशन समाज शास्त्र, समाज कार्य, या मनोविज्ञान सब्जेक्ट से पास किया है तो आपको अन्य स्टूडेंट्स से ज्यादा इम्पोर्टेंस दी जाती है.

इस पोस्ट पर अप्लाई करने के लिए कैंडिडेट की ऐज 21 से 37 साल होनी चाहिए जिसमें OBC category के कैंडिडेट को 3 साल और एससी/एसटी category के कैंडिडेट को 5 साल की छूट दी जाती है.

CDPO का फॉर्म भरने के लिए अप्लाई कैसे करें?

CDPO का फॉर्म भरने के लिए आपको अपने राज्य की लोक सेवा आयोग की वेबसाइट पर जाना होगा और वहाँ पर आपको सीडीपीओ फॉर्म के बारे मे पूरी जानकारी मिल जाएगी और वहाँ से आप अपना फॉर्म भी ऑनलाइन भर सकते हैं.

CDPO बनने के लिए भर्ती प्रक्रिया क्या है?

सीडीपीओ बनने के लिए स्टूडेंट्स को प्रारंम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा, और फिर इंटरव्यू पास करना होता है

प्रारंम्भिक परीक्षा

इस परीक्षा मे सामान्य ज्ञान का पेपर होता है इसमें 150 नम्बर के प्रश्न पूछे जाते है और यह 2 घन्टे का पेपर होता है.

मुख्य परीक्षा

इसमें कुल तीन पेपर होते है पहला पेपर हिंदी का होता है जिसमें 100 नम्बर के प्रश्न पूछे जाते हैं दूसरा पेपर जनरल स्टडीज 1 और जनरल स्टडीज 2 का, जिससे 300-300 नम्बर के प्रश्न पूछे जाते है पेपर 3-3 घन्टे के होते हैं तीसरा पेपर ऑप्शनल होता है जिसमे ग्रह विज्ञान, मनोविज्ञान, समाज शास्त्र, और समाज कल्याण मे से स्टूडेंट को किसी एक सब्जेक्ट को चुनना होता है यह भी 3 घंटे का पेपर होता है ये सभी पेपर descriptive (प्रश्न का उत्तर लिखना होता है)  होते है.

इस सभी में जनरल स्टडीज मे विज्ञान, पर्यावरण और पारिस्थितिकी, समयिक, अर्थशास्त्र, सरकारी नीतियाँ और पहल,  संस्थान, अंतरराष्ट्रीय संबंध, राजनीति, भूगोल, कला संस्कृति, आधुनिक इतिहास, मध्यकलीन इतिहास, और आजादी के बाद का इतिहास से रिलेटेड क्वेश्चन्स पूछे जाते हैं.

इंटरव्यू

दोनों एग्जाम्स पास करने वाले स्टूडेंट्स को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है इंटरव्यू 120 नंबर का होता है अगर आप इंटरव्यू क्लियर कर लेते है तो आपको सीडीपीओ का पद दे दिया जाता है.

CDPO ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है?

CDPO ऑफिसर को प्रतिमाह 50,000 से 65,000 रूपये के लगभग सैलरी मिलती है  समय और एक्सपीरियन्स बढ़ने के साथ ही आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है.

इसे भी पढ़ें?

CUET एग्जाम क्या होता है?

GMAT एग्जाम क्या होता है?

CMAT एग्जाम क्या होता है?

ITBP कैसे ज्वाइन करें? 

DM और SSP में किसके पास ज्यादा पॉवर है?

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (CDPO Kaise bane in Hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी यूजफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको CDPO से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन दी है

हमारी ये (CDPO Kaise bane in Hindi) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो स्टूडेंट्स CDPO पोस्ट के बारे में जानकारी चाहते है उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.