BSW कोर्स क्या है? | BSW का फुल फॉर्म क्या है ?

bsw course kya hai in hindi

अगर आप समाज सेवा करना पसंद करते हैं तो आप बीएसडब्ल्यू कोर्स कर सकते हैं ये कोर्स करने के लिए आपको इससे रिलेटेड पूरी जानकारी होनी चाहिए इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको बीएसडब्ल्यू कोर्स से रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

BSW कोर्स क्या है? (What is BSW Course in hindi)

बीएसडब्ल्यू का पूरा नाम बैचलर ऑफ़ सोशल वर्क है BSW का फुल फॉर्म (bachelor of social work) ये एक प्रकार का प्रोफेशनल अंडरग्रेजुएट कोर्स है अगर आप समाज सेवा करना पसंद करते हैं तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं

bsw course kya hai in hindi

इस कोर्स की ड्यूरेशन 3 साल की होती है इसमें 6 सेमेस्टर होते हैं ये कोर्स आप दोनों मोड में कर सकते हैं पहला रेगुलर और दूसरा डिस्टेंस मोड, और ये कोर्स आप हिंदी और इंग्लिश दोनों माध्यम से कर सकते हैं.

BSW कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या होनी चाहिए?

इस कोर्स को करने के लिए कैंडिडेट को किसी भी स्ट्रीम (बायो, मैथ या कॉमर्स)से 12th पास करना होगा और 12th में आपके कम से कम 50% मार्क्स होना जरूरी है.

BSW कोर्स करने के लिए फीस कितनी लगती हैं?

बीएसडब्ल्यू कोर्स 3 साल का होता है तो आपकी एक साल की फीस लगभग 5,000 से 15,000 रूपये होती है, आपकी ये फीस आपके कॉलेज पर भी डिपेंड करती हैं कि आप कौन से कॉलेज में एडमिशन ले रहे हैं.

BSW कोर्स करने के लिए एडमिशन प्रोसेस क्या है?

बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के लिए आप मेरिट बेस/डायरेक्ट भी एडमिशन ले सकते हैं कुछ कॉलेज ऐसे भी हैं जिनमे एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होगा, लेकिन इस कोर्स को करने के लिए ज्यादातर कॉलेज ऐसे हैं जो डायरेक्ट एडमिशन दे देते हैं ये आप जहाँ से ये कोर्स करना चाहते हैं वहां जाकर पता कर सकते हैं कि उस कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन/मेरिट बेस प्रोसेस है या एंट्रेंस एग्जाम देना होगा.

BSW कोर्स करने के लिए इंडिया में टॉप इंस्टिट्यूट कौन-कौन से हैं?

इस कोर्स को करने के लिए इंडिया में बहुत से टॉप कॉलेज हैं जहाँ से आप बीएसडब्ल्यू का कोर्स कर सकते हैं और अच्छी नॉलेज ले कर सकते हैं

जैसे– नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल वर्क एंड सोशल साइंस भुवनेश्वर,

पटना यूनिवर्सिटी पटना,

मद्रास स्कूल ऑफ़ सोशल वर्क चेन्नई,

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अलीगढ़,

एमिटी यूनिवर्सिटी नोएडा,

आईजीएनओयू डेल्ही,

जामिया मिल्लिया इस्लामिया डेल्ही,

BSW कोर्स के कौन-कौन से पार्ट्स हैं?

बीएसडब्ल्यू कोर्स के मुख्यतः तीन पार्ट्स है-

फाउंडेशन कोर्स

फाउंडेशन कोर्स (bsw course kya hai in hindi) में आप ह्यूमानिटीस एंड सोशल साइंस, साइंस एंड टेक्नोलॉजी , इंट्रोडक्शन टू सोशल वर्क, सोशल वर्क इंटरवेंशन विथ इंडिविजुअल्स एंड ग्रुप्स और एम्पॉवरमेंट ऑफ़ वीमेन आदि

इलेक्टिव कोर्स

फील्ड वर्क

BSW कोर्स का सिलेबस क्या है?

फर्स्ट इयर-

इंट्रोडक्शन तो सोशल वर्क,

सोशल वर्क इंटरवेंशन कम्युनिटीज,

सोशल वर्क इंटरवेंशन विथ इंस्टिट्यूशन्स,

इंट्रोडक्शन टू फॅमिली एजुकेशन,

ह्यूमनिटीस टू सोशल साइंस,

इंट्रोडक्शन टू एचआईवी/एआईडीएस,

काउंसलिंग,

मेथोडोलॉजी टू अंडरस्टैंड सोशल रियलिटी, आदि.

सेकंड इयर-

बेसिक्स एंड एमरजेंसी ऑफ़ सोशल वर्क,

साइकोलॉजी कांसेप्ट ऑफ़ ह्यूमन बिहेवियर,

फील्ड वर्क,

साइंस एंड टेक्नोलॉजी,

रेलेवांस ऑफ़ साइकोलॉजी इन सोशल वर्क,

सोशल प्रोब्लम्स एंड सर्विसेज,

बेसिक कांसेप्ट ऑफ़ सोशल साइकोलॉजी,

इंट्रोडक्शन टू सोशल केस वर्क,

कंटेम्पररी सोशल प्रॉब्लम्स एंड सोशल डिफेन्स आदि.

थर्ड इयर-

करंट इश्यूज इन कम्युनिटी एंड ऑर्गेनाइजेशन्स,

सेक्सुअल हेल्थ एजुकेशन,

रोले ऑफ़ एनजीओ,

एप्रोच इन सोशल वर्क,

फैक्चुअल इनफार्मेशन ऑफ़ सब्स्टैंस एब्यूज,

रेलेवांस एंड इम्प्लीकेशन्स,

एम्पॉवरमेंट ऑफ़ वीमेन,

कोग्निटिव एंड साइकोलॉजी टेक्निक्स,

कल्चरल एंड सोशल वैल्यूज इन फॅमिली लाइफ आदि.

BSW कोर्स करने के फायदे क्या हैं?

  1. ये कोर्स करके आप शिक्षा क्षेत्र में विकास कर सकते हैं.
  2. ये कोर्स करने के बाद आप साइकोलॉजिकल क्षेत्र में विकास कर सकते हैं.
  3. चाइल्ड डेवलपमेंट फील्ड में भी विकास कर सकते हैं जैसे- जो बच्चे गरीब होते हैं उन्हें खाना और शिक्षा प्रोवाइड कराना, लाइट की फैसिलिटी देना और भी जो सुविधायें होती हैं उन्हें प्रोवाइड कराना आदि.
  4. ये कोर्स करने के बाद आप हॉस्पिटल की सुविधाओं में विकास कर सकते हैं.
  5. आप डिजास्टर मैनेजर का काम कर सकते हैं.
  6. ये कोर्स करने के बाद आप इंटरनेशनल लेवल पर सोशल वर्क कर सके हैं.
  7. डिसीजन एंड मैनेजमेंट की फील्ड में भी विकास कर सकते हैं.
  8. किसी संस्था के लिए सामाजिक विकास कर सकते हैं.

BSW कोर्स करने के बाद आप कौन-कौन सी जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस पा सकते हैं?

सोशल वर्कर,

स्पेशल एजुकेटर,

प्रोजेक्ट मैनेजर,

हबिलिटेशन स्पेशलिस्ट,

टीचर,

चैरिटी ऑफिसर,

वर्कर्शिप डायरेक्टर,

मेंटल हेल्थ असिस्टेंट,

कम्युनिटी डेवलपमेंट वर्कर,

वालंटियर कोऑर्डिनेटर आदि की जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस पा सकते हैं सिम्पली समाज सेवा करने के लिए कोई कोर्स नही करना पड़ता है लेकिन अगर आप इस कोर्स को कर लेते हैं तो आप जो एनजीओ होते हैं उन्हें भी ज्वाइन कर सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं.

इसे भी पढ़े?

CCNP कोर्स क्या है?

BCA कोर्स क्या है? 

डिप्लोमा कोर्स क्या है और कैसे करें

बीएससी नर्सिंग कोर्स क्या है?

आज आपने क्या सीखा

हमे उम्मीद हैं कि हमारा ये (bsw course kya hai in hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा इसमें हमने आपको बीएसडब्ल्यू कोर्स से रिलेटेड पूरी जानकारी दी है जैसे- बीएसडब्ल्यू कोर्स क्या है?बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या होनी चाहिए? बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के लिए फीस कितनी लगती हैं? बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के लिए एडमिशन प्रोसेस क्या है? बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के लिए इंडिया में टॉप इंस्टिट्यूट कौन-कौन से हैं? बीएसडब्ल्यू  कोर्स करने के कौन-कौन से पार्ट्स हैं? बीएसडब्ल्यू कोर्स का सिलेबस क्या है? बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के फायदे क्या हैं? और बीएसडब्ल्यू कोर्स करने के बाद आप कौन-कौन सी जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस पा सकते हैं? आदि,

हमारी ये (bsw course kya hai in hindi) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो लोग इस बारे में जानना चाहते हैं या इस कोर्स को करके समाज सेवा करना चाहते हैं उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.