Bitcoin क्या है | Bitcoin कैसे काम करता है

Bitcoin kya hai hindi me bataye

दुनिया में हर देश की अलग-अलग करेंसी होती है (जैसे-भारत की करेंसी रुपया है) जिसका यूज लोग सामान खरीदने के लिए करते हैं ठीक उसी तरह इंटरनेट में भी बिटकॉइन नाम की एक करेंसी होती है जिसका इस्तेमाल ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए किया जाता है आज इस आर्टिकल में हम आपको बिटकॉइन के बारे में पूरी जानकारी देंगे जैसे- बिटकॉइन क्या होता है इसे कैसे और क्यों यूज किया जाता है और इसकी वैल्यू कितनी होती है.

बिटकॉइन क्या है? (What is Bitcoin in Hindi?)

बिटकॉइन एक डिजिटल करेंसी है इसे वर्चुअल करेंसी भी कहते हैं क्युकी लोग इसे डिजिटल तरह से इस्तेमाल में लाते हैं और ये बाकि सब करेंसी से अलग होती है इसीलिए इसे वर्चुअल करेंसी कहते हैं बिटकॉइन को हम डॉलर या रुपया की तरह न छू सकते और न ही देख सकते हैं फिर भी इसका यूज पैसों के जैसे लेन-देन/ट्रांजेक्शन के लिए करते हैं इसे सिर्फ ऑनलाइन वोलेट में स्टोर किया जा सकता है.

Bitcoin kya hai hindi me bataye

बिटकॉइन को सातोशी नाकामोटो ने 2008 में जारी किया था और 2009 में इसे ग्लोबल पेमेंट के रूप में शुरू किया गया था तब से लोगो में इसकी लोकप्रियता बढ़ रही है ये एक डिसेंट्रलाइसड करेंसी है क्युकी इसे कंट्रोल करने के लिए कोई बैंक या गवर्नमेंट अथॉरिटी नही है जिस तरह से हम सभी लोग इंटरनेट का यूज करते हैं

और इंटरनेट का कोई मालिक नही है बिटकॉइन भी ठीक सही तरह है जिसके पास बिटकॉइन होता है वो फिजिकल रूप से सामान की खरीदारी नही कर सकता है बल्कि इससे ऑनलाइन पेमेंट किया जा सकता हैं बिटकॉइन को दूसरी करेंसी में भी चेंज किया जा सकता है अगर आपके पास बिटकॉइन है

तो आप इसे अपने देश की बैंक अकाउंट में चेंज करके ट्रान्सफर कर सकते हैं आज के समय में ये दुनिया की सबसे महंगी करेंसी है कंप्यूटर नेटवर्क के द्वारा इस करेंसी को बिना किसी माध्यम के ट्रांजेक्शन किया जा सकता है डिजिटल करेंसी को डिजिटल वोलेट में रखा जा सकता है इसे क्रिप्टोकरेंसी भी कहते हैं

सिंपल करेंसी की तरह आप इसे भी प्रयोग में ला सकते हैं इसका प्रयोग आप सरकारी संगठनों में दान करने, सामान खरीदने और उन्हें किसी और को भेजने के लिए भी प्रयोग में ला सकते हैं इसका इस्तेमाल कोई भी व्यक्ति कर सकता है कोई भी बैंक या सरकारी संस्था आपको ऑनलाइन बिटकॉइन भेजने से नही रोक सकती है

इसमें एक और दिक्कत होती है जैसे अगर आपके साथ कोई धोखा होता है तो आप किसी के पास इसकी शिकायत दर्ज नही करा सकते है लेकिन फिर भी दुनिया में बहुत से बड़े लोग और बड़ी-बड़ी कंपनियां इसका इस्तेमाल करती हैं.

Blockchain क्या है?

बिटकॉइन का इस्तेमाल कहाँ और क्यों किया जाता है?

बिटकॉइन का इस्तेमाल ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने में या पेमेंट करने में किया जाता है बिटकॉइन पी टू पी पर नेटवर्क पर बेस्ड है मतलब कि दुनिया में लोग एक- दूसरे के साथ बिना किसी बैंक क्रेडिट कार्ड कंपनी के माध्यम के आसानी से ट्रांजेक्शन कर सकते हैं

आप डेबिट या क्रेडिट कार्ड से ट्रांजेक्शन करने में 2 से 3% लेन-देन शुल्क लगता है लेकिन इसमे ऐसा कुछ नही होता है इसीलिए इसकी लोकप्रियता बढ़ रही है और ये सुरक्षित भी रहता है इन्हीं सब कारणों से आज ज्यादा लोग इसे यूज में लाते है जैसे- इंटरप्रेनियुर्स, नॉट-प्रॉफिट आर्गेनाईजेशन, ऑनलाइन डेवेलोपर्स आदि इसीलिए पूरे वर्ल्ड में इसका इस्तेमाल ग्लोबल पेमेंट के जैसे किया जाता है

इसकी क्रेडिट लिमिट न होने के साथ ही आप इसे कही पर भी ले जाने में कोई दिक्कत नही होती है दुनिया में आप इसे कहीं भी यूज कर सकते हैं और ये बिलकुल सुरक्षित होता है.

बिटकॉइन की वैल्यू क्या है? (What is the value of Bitcoin?)

बिटकॉइन की वैल्यू समय-समय पर कम-ज्यादा होती रहती है क्युकी इसे कंट्रोल करने के लिए कोई बैंक या अथॉरिटी नही है इसलिए बिटकॉइन की वैल्यू उसकी मांग के अनुसार चेंज होती रहती है और सभी देशों में इसकी कीमत अलग-अलग इसकी डिमांड के अनुसार होती है.

बिटकॉइन को कैसे पाया जा सकता है?

बिटकॉइन (Bitcoin kya hai hindi me bataye) को आप दो तरीके से पा सकते हैं पहला आप पैसे देकर बिटकॉइन खरीद सकते हैं अगर आपके पास पैसे है तो, और अगर आपके पास इतने सारे पैसे नही है तो अगर आप एक बिटकॉइन नही खरीद सकते तो आप उसकी एक यूनिट सातोशी करीब सकते हैं जैसे-एक रूपये में 100 पैसे होते हैं ठीक उसी तरह इसके एक सातोशी में 10 करोड़ सातोशी होते है

इस तरह आप एक सातोशी से 1 बिटकॉइन या फिर उससे ज्यादा बिटकॉइन भी खरीद सकते हैं और आपके पास ज्यादा बिटकॉइन हो जाये तो आप उनको बेचकर ज्यादा पैसे कमा सकते हैं और आप बिटकॉइन खरीदकर उसमे इन्वेस्ट भी कर सकते हैं भारत में दो वेबसाइट ऐसी हैं जहाँ से बिटकॉइन खरीदा और बेचा जा सकता है

Zebpay.com और Unocoin.com, बिटकॉइन खरीदने के लिए आपको इनमे से किसी एक वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाना होता है और कुछ डॉक्यूमेंट जैसे- आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, फोन नंबर, ईमेल और बैंक डिटेल्स भी सबमिट करना होता है

अकाउंट बनाने के बाद उस वेबसाइट से बिटकॉइन खरीदा और बेचा जा सकता है और दूसरा तरीका ये है कि बिटकॉइन माइनिंग, सिम्पली माइनिंग का मतलब होता है कि खुदाई करने पर निकले उत्पाद जैसे-सोना, कोयला आदि की माइनिंग, बिटकॉइन का कोई फिजिकल रूप नही होता है

इसलिए इसकी माइनिंग नही की जा सकती है इसीलिए नये बिटकॉइन के निर्माण करने को बिटकॉइन माइनिंग कहते हैं बिटकॉइन निर्माण कंप्यूटर पर ही सम्भव है बिटकॉइन माइनिंग बिटकॉइन मैनर्स करते है इसके लिए सिस्टम, हाई स्पीड प्रोसेसर और माइनिंग सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है बिटकॉइन का यूज ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए किया जाता है

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने के बाद इसे  वारिफाई किया जाता है और जो वारिफाई करते हैं उन्हें मैनर्स कहते है उनके पास हाई परफॉरमेंस कंप्यूटर और एक बेहतर/अच्छा हार्डवेयर होता है जिसके द्वारा ये ऑनलाइन ट्रांजेक्शन को वारिफाई करते हैं मैनर्स एक अलग तरह का कंप्यूटर इस्तेमाल करके ट्रांजेक्शन को पूरा करते हैं और नेटवर्क को सुरक्षित करते हैं

इस काम के बदले में उनको कुछ कॉइन्स इनाम में मिलते हैं और इस तरह मार्केट में नये बिटकॉइन्स आते हैं ट्रांजेक्शन को वारिफाई करना आसान नही होता है इसमें बहुत से मैथमेटिकल कैलकुलेशन को हल करना काफी कठिन होता है बिटकॉइन माइनिंग कोई भी कर सकता है जिसके पास हाई स्पीड प्रोसेसर वाला कंप्यूटर होना चाहिये, माइनिंग का वर्क वो लोग कर सकते है

जिसके पास विशेष कैलकुलेशन करने वाले कंप्यूटर्स और बड़े कैलकुलेशन करने की क्षमता होती है इंडिया में भारतीय रिजर्व बैंक लोगों को इस करेंसी में निवेश करने से रोकता है क्युकी इसमें पहले से ही किसी भी प्रकार के निवेश को गैर कानूनी बताया जाता है फिर भी लोग इसमें निवेश कर रहे है

भारतीय रिज़र्व बैंक ने 24 दिसम्बर 2013 में बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी के बारे में कहा था कि इसके लेन-देन को कोई अधिकारिक अनुमति नही दी गयी है  और कई स्तर पर इसका इस्तेमाल करना खतरनाक है 1 फरवरी 2017 और 5 दिसम्बर 2017 को भारतीय रिजर्व बैंक ने इसके बारे में सावधानी जारी की गयी है.

कंप्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने | Best Computer Tips in Hindi

आज आपने क्या सीखा?

हम उम्मीद करते हैं कि हमारा ये आर्टिकल (Bitcoin kya hai hindi me bataye) आपको काफी पसंद आया होगा

आज इसमें हमने आपको बताया है कि बिटकॉइन क्या है कहाँ और क्यों इस्तेमाल करते हैं इसकी वैल्यू क्या है? आदि, आपको हमारी ये जानकारी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो इस बारे में जानना चाहते है उसके साथ भी इसे जरुर शेयर कीजियेगा.

“ मेरा देश बदल रहा है आगे बढ़ रहा है ”

आइये आप भी इस मुहीम में हमारा साथ दें और देश को बदलने में अपना योगदान दें.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.