BFA कोर्स क्या है? | BFA कोर्स करने के फायदे क्या है?

BFA course kya hai in hindi– बीएफए का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ एकाउंटिंग एंड फाइनेंस होता है आप में से कुछ लोगों ने इस कोर्स को किया होगा लेकिन कुछ कोग ऐसे भी होगे जिन्हें इसके बारे में जानकारी नही होगी इसीलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको बीएफए कोर्स से रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

BFA कोर्स क्या है? (What is BFA Course in Hindi)

BFA course kya hai in hindi
Image Credit: Shutterstock

बीएफए कोर्स 3 साल का एक अंडरग्रेजुएट कोर्स होता है इसका पूरा नाम बैचलर ऑफ़ एकाउंटिंग एंड फाइनेंस होता है. इसमें आपको एकाउंटिंग और फाइनेंसियल सब्जेक्ट से रिलेटेड जानकारी दी जाती है. बीएफए डिग्री आपको फाइनेंसियल एकाउंटिंग,कास्ट एकाउंटिंग, ऑडिटिंग, आईटी, टैक्सेशन, रिस्क मैनेजमेंट, इकॉनोमिक्स, एंड बिज़नेस लॉ, बिज़नेस कम्युनिकेशन के एरिया में नॉलेज गेन करने में मदद करता है.

बीएफए कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या है?

बीएफए कोर्स करने के लिए कैंडिडेट को किसी भी स्ट्रीम से 12th पास करना होगा, जिसमे आपके 60% मार्क्स होने चाहिये, इसमें ये जरूरी नही है कि आपने किसी एक पर्टिकुलर सब्जेक्ट से 12th पास किया हो. ये कोर्स 3 साल का होता है.

बीएफए कोर्स करने के लिए फीस कितनी लगती है?

ये कोर्स करने के लिए आपको 10 हजार से 80 हजार रूपये पर इयर फीस जमा करनी पड़ सकती है अगर आप किसी गवर्नमेंट कॉलेज से ये कोर्स करते है तो आपकी फीस कम पड़ेगी, लेकिन अगर आप यही कोर्स किसी प्राइवेट कॉलेज से ये कोर्स करते है तो आपकी एक साल की लगभग फीस 80 हजार से 1 लाख तक पड़ सकती है.

बीएफए कोर्स के लिए एडमिशन प्रोसीजर क्या है?

बीएफए कोर्स के लिए कुछ कॉलेज ऐसे है जिनमे मेरिट बेस पर एडमिशन मिल जाता हैं लेकिन कुछ कॉलेज ऐसे भी है जिनमे एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना पड़ता है.

बीएफए कोर्स में सब्जेक्ट कौनकौन से होते हैं?

बीएफए कोर्स में आपको पहले साल में विसुअल आर्ट्स के सभी सब्जेक्ट्स पढ़ाये जाते हैं और सभी सब्जेक्ट्स के बारे में डिटेल में जानकारी दी जाती है, लेकिन लास्ट इयर में आपको स्पेसिलाईजेशन के तौर पर एक सब्जेक्ट चुनना होता है लास्ट इयर में पेंटिंग, ड्रामा थिएटर, फोटोग्राफी, म्यूजिक, एप्लाइड आर्ट, ग्राफ़िक डिजाईन, स्कल्पचर, और एनीमेशन आदि सब्जेक्ट्स होते है इसमें से आप अपने इंटरेस्ट के अनुसार चुन सकते है.

बीएफए कोर्स के साथ में ही आप एमएफए, पीएचडी, और एमफिल भी कर सकते है.

बीएफए कोर्स करने के बाद आप कौनकौन सी जॉब्स कर सकते हैं?

ये कोर्स करने के बाद आपको एनीमेशन, न्यूजपेपर, फिल्म इंडस्ट्री, आर्ट स्टूडियो, ग्राफिक आर्ट, टेक्सटाइल सेक्टर, और टीचिंग जैसी जॉब मिल सकती हैं.

बीएफए कोर्स करने के लिए टॉप कॉलेज कौन से हैं?

ये कोर्स करने के लिए टॉप कॉलेज निम्न है-

काशी विश्वविद्यालय

सर जे जे स्कूल ऑफ़ आर्ट मुंबई,

कॉलेज ऑफ़ आर्ट दिल्ली यूनिवर्सिटी,

गवर्नमेंट कॉलेज ऑफ़ फाइन आर्ट चेन्नई,

गुरु घासीदास विश्वविद्यालय छत्तीसगढ़, आदि, जहाँ से आप इस कोर्स को कर सकते हैं.

बीएफए कोर्स करने के फायदे क्या है?

बीएफए के निम्नलिखित फायदे हैं-

  1. यह एक प्रोफेशनल डिग्री हैं.
  2. इसमें ज्यादा करियर एकाउंटिंग में हैं.
  3. बीकॉम की तुलना में एकाउंटिंग नॉलेज बेहतर होती है.
  4. चाहे कम्पनी छोटी हो या बड़ी, सभी कंपनियों में रिकॉर्ड को मेंटेन करने के लिए अकाउंटेंट की जरूरत होती है इसीलिए एक अकाउंटेंट के जैसे आपको जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस ज्यादा मिलती है.

बीएफए कोर्स करने के नुकसान क्या होते हैं.

बीएफए कोर्स करने का एक बड़ा नुकसान ये होता है कि इसमें इम्पोर्ट और एक्सपोर्ट ट्रेड के सब्जेक्ट्स (जैसे कॉमर्स) होते हैं वो सही से नही सिखाये जाते हैं.

इसे भी पढ़ें?

Cerebral Palsy क्या है? | What is Cerebral Palsy in hindi

AIIMS में एडमिशन कैसे मिलता है? | What is AIIMS in Hindi

ICAR एग्जाम क्या है? | What is ICAR exam in hindi

CFA कोर्स क्या है? | What is CFA Course in hindi

आज आपने क्या सीखा?

हमे उम्मीद है कि हमारा ये (BFA course kya hai in hindi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा इसमें हमने आपको BFA कोर्स के बारे में पूरी जानकारी दी है. बीएफए कोर्स क्या है? बीएफए कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्या है? बीएफए कोर्स के लिए एडमिशन प्रोसीजर क्या है? बीएफए कोर्स में सब्जेक्ट कौन-कौन से होते हैं? बीएफए कोर्स करने के बाद आप कौन-कौन सी जॉब्स कर सकते हैं? बीएफए कोर्स करने में फीस कितनी लगती है? बीएफए कोर्स करने के लिए टॉप कॉलेज कौन से हैं? बीएफए कोर्स के फायदे क्या है? और बीएफए कोर्स करने के नुकसान क्या है? आदि.

आपको हमारी ये जानकारी कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और जो लोग ये कोर्स करना चाहते हैं उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *