अग्निवीर से आर्मी में ऑफिसर कैसे बनें? | How to become an officer in Army from Agniveer in Hindi

agniveer se army me officer kaise bane

अग्निपथ में अलग-अलग पोस्ट पर भर्ती के लिए वैकेंसी निकाली गयी है जैसे- अग्निवीर ट्रेड्समैन, अग्निवीर जीडी, अग्निवीर टेक्निकल, अग्निवीर क्लर्क एंड स्टोरेकीपर, लेकिन ये सभी नॉन ऑफिसर रैंक की पोस्ट्स है लेकिन क्या आपको पता है कि अग्निवीर से सेना में ऑफिसर बनने के लिए आपको क्या करना होगा, अगर आपको नही पता है तो आइये आज इस आर्टिकल में हम आपको अग्निवीर से सेना में ऑफिसर बनने से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन देंगे.

अग्निवीर से आर्मी में ऑफिसर कैसे बनें?

agniveer se army me officer kaise bane

अग्निवीर द्वारा नॉन ऑफिसर (अग्निवीर ट्रेड्समैन, अग्निवीर जीडी, अग्निवीर टेक्निकल, अग्निवीर क्लर्क एंड स्टोरेकीपर) रैंक के अंतर्गत भर्तियाँ की जा रही है लेकिन नॉन ऑफिसर से एक ऑफिसर बनने के लिए 3 तरीके है.

ACC एंट्री के द्वारा

ACC का फुल फॉर्म Army Cadet College होता है अगर कैंडिडेट ने 12th पास किया है और उसकी उम्र 20 से 27 साल के बीच में है तो वह सेना में ऑफिसर पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकता है और साथ ही कैंडिडेट ने कम से कम 2 साल तक नॉन ऑफिसर पोस्ट पर काम किया हो. इसमें ACC एग्जाम होता है और यह एग्जाम साल में 2 बार कराया जाता है, इस एग्जाम को पास करने के लिए कैंडिडेट को 3 चांस दिए जाते हैं.

SCO एंट्री के द्वारा

SCO का फुल फॉर्म Special Commissioner Officer होता है अगर कैंडिडेट ने 12th पास किया है और उसकी उम्र 28 से 35 साल के बीच में है तो वह सेना में ऑफिसर पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकता है और साथ ही साथ कैंडिडेट ने कम से कम 5 साल तक सेना में काम किया हो. इसमें SCO एग्जाम पास करना होता है और यह एग्जाम साल में 2 बार कराया जाता है, इस एग्जाम को पास करने के लिए कैंडिडेट को 3 चांस दिए जाते हैं.

PCSL एंट्री के द्वारा

PCSL का फुल फॉर्म Permanent Commission Special List होता है अगर कैंडिडेट ने 12th पास किया है और उसकी उम्र 40 से 45 साल के बीच में है तो वह सेना में ऑफिसर पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकता है और साथ ही साथ कैंडिडेट ने कम से कम 10 साल तक सेना में काम किया हो. इसमें PCSL एग्जाम पास करना होता है इस एग्जाम को पास करने के लिए कैंडिडेट को 3 चांस दिए जाते हैं.

इन तीनों एक्साम्स के द्वारा पास कैंडिडेट की 8 हफ्ते एवियस सेण्टर एंड कॉलेज पंचमणि में ट्रेनिंग होती है उसके बाद 4 हफ्ते तक देहरादून में ट्रेनिंग होती है ट्रेनिंग को पास करने वाले कैंडिडेट को सेना में ऑफिसर पोस्ट पर भर्ती कर दिया जाता है. अग्निवीर का प्रोसेस भी सिंपल सेना में प्रोसेस के जैसा ही होता है लेकिन अग्निवीर में 4 साल काम करने के बाद 25% कैंडिडेट्स को सेना में परमानेंट कर दिया जायेगा और बाकि के 75% कैंडिडेट्स को निकाल दिया जायेगा. तो इन 25% कैंडिडेट्स में से जो कैंडिडेट 2 साल बाद ACC एग्जाम, SCO एग्जाम, और PSCL का एग्जाम करेंगे, वो सेना में ऑफिसर की पोस्ट पर जा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें?

अग्निवीर योजना क्या है?

अग्निवीर भर्ती में NCC कैंडिडेट को मिलने वाले फायदे क्या होंगे?

अग्निवीर भर्ती के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स कौन-कौन से है?

अग्निवीर को क्या काम करना होगा?

अग्निपथ योजना से फायदा या नुकसान 

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (agniveer se army me officer kaise bane) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको अग्निवीर से ऐना में ऑफिसर बनने से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन दी है

हमारी ये (agniveer se army me officer kaise bane) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.