अग्निवीर की ट्रेनिंग कैसे होगी? | अग्निवीरों का डेली रूटीन कैसा रहेगा?

agniveer ki training kaise hogi

आप सभी लोग अग्निवीर भर्ती के बारे में जानते ही है लेकिन क्या आपको पता है कि इसमें सेलेक्टेड कैंडिडेट की ट्रेनिंग कैसे होगी अगर नही पता है तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़े, क्युकी आज इस आर्टिकल में हम आपको अग्निवीर की ट्रेनिंग कैसे होगी इससे रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

अग्निवीर की ट्रेनिंग कैसे होगी?

agniveer ki training kaise hogi

पहले जब कैंडिडेट को सेना में भर्ती किया जाता था तो उन्हें 9 महीने की ट्रेनिंग दी जाती थी लेकिन अग्निवीर की इस भर्ती में सिर्फ 6 महीने की ट्रेनिंग होगी, इन 6 महीने की ट्रेनिंग को 2 पार्ट्स में डिवाइड किया गया है पहला बेसिक ट्रेनिंग और दूसरी टेक्निकल ट्रेनिंग, शुरुआत के 20 हफ्ते में कैंडिडेट को बेसिक ट्रेनिंग और बाकि के 4 हफ्तों में टेक्निकल ट्रेनिंग दी जाएगी.

बेसिक ट्रेनिंग

इसमें कैंडिडेट को 4 तरह की ट्रेनिंग दी जाएगी

फिजिकल ट्रेनिंग

इसमें रनिंग, पुशअप, पुलअप, फ्रंट रोल, बैन रोल, और होरिज़ॉंटल रोल, जैसी एक्सरसाइज कराई जाती है इन एक्सरसाइज के द्वारा कैंडिडेट को फिजिकली मजबूत बनाया जायेगा, जिसे वे हर तरह की मुश्किल का सामना कर सकें. फिजिकल ट्रेनिंग सुबह के समय में लगभग 1 से 1.5 घंटे की होगी.

ड्रिल ट्रेनिंग

इस ट्रेनिंग में अग्निवीरों को ड्रिल के लिए प्रॉपर तैयार किया जाता है.

वेपन (weapon) ट्रेनिंग

इस ट्रेनिंग में अग्निवीरों को हर तरह के हथियारों को चलाना सिखाया जायेगा, इसमें कैंडिडेट को हथियार को चलाने के तरीके के साथ-साथ हथियार के रख-रखाव, खोलना-बांधना सिखाया जाता हैं.

नेविगेशन ट्रेनिंग

इसमें अग्निवीरों को किसी भी तरह का नक्शा पढ़ने और नक़्शे में किसी भी तरह की बारीकियों को पढ़ना सिखाया जाता है.

टेक्निकल ट्रेनिंग

टेक्निकल ट्रेनिंग के इन 4 हफ्तों में कैंडिडेट को उसकी ट्रेड के अनुसार ट्रेनिंग दी जाएगी जैसे कि अगर किसी कैंडिडेट ने टेक्निकल ट्रेड लिया है तो उस कैंडिडेट को सेना में उपयोग होने वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के बारे में सिखाया जायेगा, और अगर किसी कैंडिडेट ने ट्रेड्समैन ट्रेड लिया है तो उस कैंडिडेट को साफ-सफाई वाले कामो को सिखाया जायेगा, इसीतरह कैंडिडेट को उसकी ट्रेड के अनुसार ट्रेनिंग दी जाएगी.

अग्निवीरों का डेली रूटीन कैसा रहेगा?

अग्निवीरों को सुबह 4:30 बजे ही जगाया जायेगा उसके बाद उन्हें फ्रेश होकर अपने बिस्तर को बंधकर रखना होगा, उसके बाद कैंडिडेट की फिजिकल ट्रेनिंग होगी, और लगभग 7 बजे से टाइम नाश्ता मिलेगा, और 8 बजे से फिर से आपकी ट्रेनिंग शुरू हो जाएगी उसके बाद ये ट्रेनिंग दोपहर में लगभग 1 बजे ख़त्म होगी इस टाइम में आपको अलग-अलग तरह की कई सारी एक्टिविटीज कराई जायेंगी, उसके बाद दोपहर का खाना मिलेगा और फिर लगभग 4 बजे से समय गेम खिलवाया जायेगा. उसके बाद लगभग 8 बजे से समय रात का खाना मिलेगा, और 9 बजे सभी कैंडिडेट सोने के लिए चले जायेंगे, कैंडिडेट्स को स्ड्यूल के अनुसार 1-1 करके नाईट ड्यूटी भी करनी पड़ती है ट्रेनिंग के दौरान हफ्ते में एक दिन मूवी भी दिखाई जाती है इन सभी चीजों के बारे में कैंडिडेट को ट्रेनिंग में सिखाया जायेगा.

इसे भी पढ़ें?

अग्निवीर योजना क्या है?

अग्निवीर भर्ती में NCC कैंडिडेट को मिलने वाले फायदे क्या होंगे?

अग्निवीर भर्ती के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स कौन-कौन से है?

अग्निवीर को क्या काम करना होगा?

अग्निपथ योजना से फायदा या नुकसान 

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (agniveer ki training kaise hogi) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको अग्निवीर की ट्रेनिंग से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन दी है

हमारी ये (agniveer ki training kaise hogi) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.