अग्निवीर के बाद हम क्या बन सकते हैं? | अग्निवीर में आगे पद तक जाने का प्रोसेस क्या होगा?

Agniveer ke baad ham kya ban skate hai

आप सभी लोग अग्निवीर भर्ती के बारे में तो जानते ही है लेकिन क्या आपको पता है कि अग्निवीर से आप क्या-क्या बन सकते है अगर नही पता है तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़ें क्युकी आज इस आर्टिकल में हम आपको अग्निवीर से आप क्या-क्या बन सकते हैं इससे रिलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

Agniveer ke baad ham kya ban sakte hai

अग्निवीर के बाद हम क्या बन सकते हैं?

अग्निवीरों को स्टार्टिंग में सबसे पहले 6 महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी, उसके बाद साढ़े 3 साल तक सेना में अपनी सर्विस देनी होगी उसके बाद इन चार सालों में दो किसी भी अग्निवीर का कोई प्रमोशन नहीं होगा. लेकिन उसे अलग-अलग तरह के काम सिखाएं जाएंगे और फिर इन्हें 3.5 साल के बाद दोबारा से फिजिकल और अन्य कुछ टेस्टों के बेस पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी और फिर मेरिट लिस्ट के आधार पर 25% कैंडिडेट्स को सेना में परमानेंट कर दिया जाएगा और बाकी के 75% कैंडिडेट को रिटायरमेंट दे दिया जाएगा, जिन 25% कैंडिडेट को परमानेंट किया जायेगा, इन्हें सेना में अलग अलग पदों पर तैनात किया जाएगा, क्योंकि अब सेना में अलग से डायरेक्ट भर्ती नही होगी. सिर्फ साल में दो बार अग्निवीर की भर्ती की जाएगी और इन अग्निवीरों के पास सेना में कमांडो ऑफिसर के पद तक जाने का पूरा मौका होगा.

अग्निवीर में आगे पद तक जाने का प्रोसेस क्या होगा?

अगर 25% परमानेंट किये गये कैंडिडेट्स में से कोई कैंडिडेट पैरा कमांडो बनना चाहता है उससे पहले 3 साल तक सेना में अपनी सर्विस देनी होगी उसके बाद वह पैरा कमांडो के लिए अप्लाई कर सकता है जिसके बाद अलग अलग इस तरह के टेस्ट होंगे जिसमें लिखित परीक्षा भी कराई जायेगी और फिजिकल टेस्ट भी होगा और इस तरह पैरा कमांडो का सिलेक्शन 90 दिनों तक होगा और जो कैंडिडेट्स इस प्रक्रिया को पूरा करने वाले कैंडिडेट को पैराकमांडो के लिए सेलेक्ट कर लिया जाता है और अगर कैंडिडेट NSG कमांडो बनना चाहता है तो वह यह भी बन सकता है इसके लिए भी कैंडिडेट को पहले इंडियन आर्मी में 3 साल तक अपनी सर्विस देनी होगी, इसके बाद वह एनएसजी कमांडो के लिए अप्लाई कर सकेगा और इसका सिलेक्शन प्रोसेस 3 महीने का होता है जो कैंडिडेट इस प्रोसेस को पूरा कर लेते है उन्हें एनएसजी कमांडो के लिए सेलेक्टेड किया जाता है वे एनएसजी कमांडो बन जाते हैं.

इसके साथ ही परमानेंट हुए 25% अग्निवीर सेना में ऑफिसर की रैंक तक भी जा सकते हैं इसके लिए सेना में अलग अलग तरह के तीन टेस्ट कराए जाते हैं

ACC एग्जाम

अग्निवीर से सेना में सेलेक्ट हुए कैंडिडेट 2 साल तक सेना में अपनी सर्विस होने के बाद यह एग्जाम पास करके ऑफिसर बन सकते हैं.

SCO एग्जाम

इसमें सेना में 5 साल की सर्विस देने के बाद कैंडिडेट इस एग्जाम को पास करके ऑफिसर रैंक तक जा सकता हैं.

PCSL एग्जाम

सेना में 10 साल की सर्विस देने के बाद कैंडिडेट इस एग्जाम को देखकर ऑफिसर बन सकते हैं इस तरह से 25% अग्निवीर सेना में सर्विस के बाद अलग अलग तरह के पदों तक हो सकते हैं.

सेना में किसी भी तरह का कमांडो बनने के लिए डायरेक्टर कोई भर्ती नहीं होती बल्कि सेना के जवानों को ही आगे ट्रेनिंग देखकर कमांडो यूनिट में भेजा जाता है तो इसके लिए जरूरी है कि पहले आपको अग्निवीर बनना होगा 4 साल सेना में अपनी सर्विस देना होगी और उसके बाद जब आप सेना में सलेक्ट हो जाएंगे तो उसके बाद आप आगे के पदों तक जा सकते हैं.

इसे भी पढ़ें?

अग्निवीर की ट्रेनिंग कैसे होगी?

अग्निवीर से आर्मी में ऑफिसर कैसे बनें?

अग्निवीर के लिए वेट, हाइट और चेस्ट कितना होगा?

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों हम उम्मीद करते है कि हमारा ये (Agniveer ke baad ham kya ban sakte hai) आर्टिकल आपको काफी पसंद आया होगा और आपके लिए काफी हेल्पफुल भी होगा क्युकी इसमें हमने आपको बताया है कि अग्निवीर से आप क्या-क्या बन सकते हैं इसके बारे से रिलेटेड पूरी इनफार्मेशन दी है

हमारी ये (Agniveer ke baad ham kya ban sakte hai) जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा और ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.