अग्निपथ योजना से फायदा या नुकसान | अग्निवीर भर्ती के फायदे और नुक्सान क्या है?

agniveer Bharti ke fayde aur nuksan kya hai

दोस्तों आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे की अग्निपथ योजना भर्ती से फायदा है या नुकसान, क्यों इस स्कीम को लेकर देश में दंगे हो रहे है तो आइये आज इस भर्ती योजना से रिलेटेड पूरी इन्फॉर्मेशन लेते हैं.

अग्निवीर भर्ती के फायदे और नुक्सान क्या है?

अग्निपथ स्कीम के अनुसार हर साल 46,000 सोल्जर्स को भारतीय सेना में भर्ती किया जाएगा, इस स्कीम का फायदा साढ़े 17 साल से 21 साल के लोग उठा सकते हैं और जो कैंडिडेट इस स्कीम के लिए सेलेक्ट होते हैं उन्हें अग्निवीर कहा जायेगा, लेकिन ये सर्विस कमीशन पोस्ट के लिए नहीं है जैसे लेफ्टिनेंट कैप्टन वगैरह होते हैं इन सिलेक्टेड कैंडिडेट्स को केवल नॉन कमीशन डिफेंस के लिए रिक्यूट किया जाएगा,

agniveer Bharti ke fayde aur nuksan kya hai

जैसे सिपाही और नायक की पोस्ट मतलब कि इसमें लोअर पोस्ट्स मिलेंगी और इसमें सिलेक्टेड कैंडिडेट को पहले साल में पर मंथ लगभग 30,000 रुपये सैलरी मिलेगी और आने वाले चार सालों में बढ़कर उनकी सैलरी  40,000 रूपये हो जाएगी. इसके बाद जब 4 साल बाद सोल्जर्स इस नौकरी को छोड़ेंगे तो उन्हें लगभग 11 लाख रूपये गवर्नमेंट की तरफ से दिया जाएगा वैसे तो ये 11 लाख रूपये पूरे सरकार की तरफ से नहीं बल्कि इसमें 30% आपकी मंथली सैलरी से भी आएगा.

अग्निवीर की पोस्ट पर भर्ती किये जाने वाले कैंडिडेट को सिर्फ चार सालों के लिए ही सेना में भर्ती किया जाएगा इन 4 सालों से खत्म हो जाने के बाद सरकार आपको एक सर्टिफिकेट देगी और पैसे देगी और फिर उन्हें जॉब छोड़ना होगा. अग्निवीर भर्ती में सिलेक्टेड कैंडिडेट्स में से 25% को परमानेंट सेलेक्ट कर लिया जाएगा जबकि जो 75% है उन्हें 11 लाख रूपये देकर निकाल दिया जाएगा. सरकार का कहना है कि वो यहाँ पर लोगों को नौकरी देगी लेकिन इनमे से 75% अग्निवीरों को 4 साल के बाद अपनी जॉब छोड़नी पड़ेगी और फिर से वो बेरोजगार हो जाएंगे जिसके बाद उन्हें फिर से एक नई जॉब ढूंढनी पड़ेगी और इस जॉब में कोई जॉब सिक्युरिटी नहीं है और साथ ही साथ कोई पेंशन नहीं मिलेगी इसी कारण से देश के नौजवान अग्निपथ स्कीम के बारे में सुनने के बाद सड़कों पर आ गए और जगह-जगह दंगे होने लगे,

क्योंकि आज के हालात को देखकर लोगों को हमेशा अपनी खुशी की चिंता रहती है और इसलिए लोग प्राइवेट सेक्टर को छोड़कर सरकारी नौकरियों के पीछे भागते हैं ताकि उनका भविष्य सुरक्षित हो जाए और आर्मी ऑफिसर की तो ऐसी नौकरी है जिसे बहुत ही इज्जत के साथ देखा जाता है भारत में आर्मी ऑफिसर्स और भी ज्यादा बेनिफिट बातें है जैसे की अग्निवीर भर्ती में सेलेक्ट होने वाले कैंडिडेट को सरकारी नौकरी करने वाले बेसिक फायदे भी नहीं मिलेंगे, इसलिए देश के नौजवानों का कहना है कि सरकार नौकरियां ही नहीं निकाल रही है

इसलिए टेंपरेरी सलूशन निकाला है जिसमें नौकरी नहीं दे रही है बल्कि नौकरी देने का नाटक कर रही है कुछ लोग जो अग्निपथ स्कीम के सपोर्ट में उनका कहना है कि लोगों को फ्यूचर के बारे में ना सोच कर अपने आने वाले 4 सालों के बारे में सोचना चाहिए कि किस तरह उन्हें चार सालों को रोजगार मिलेगा और रिटायरमेंट के बाद एक अच्छी इनकम भी मिलेंगी जिससे लोग अपना नया बिज़नेस शुरू कर सकते हैं और अग्निवीरों की ट्रेनिंग के दौरान उन्हें अंदर से नई स्किल डेवलप करनी होगी जिसकी मदद से उन्हें दूसरी नौकरी भी मिल जाएगी.

लेकिन क्या अग्निवीर की ट्रेनिंग के दौरान मिलने वाली स्किल्स हर फील्ड में काम आएगी क्योंकि अगर कोई टेक्निकल फील्ड में जाने वाला कैंडिडेट होगा तो उसके लिए रस्सी चढ़ना है या फिर उछल कूद करना ही जरूरी नहीं है तो उसे कंप्यूटर की नॉलेज होनी चाहिए जो अग्निवीर की ट्रेनिंग के दौरान नहीं दी जाती है ऐसे में 4 साल कैंडिडेट हर जगह तो रस्सी कूद कर नौकरी हासिल नहीं कर सकता ना उसे कोई ना कोई ऐसी स्किल्स आनी चाहिए जिससे वो अच्छी इनकम कमा सकें क्युकी सिर्फ 11 लाख रूपये में एक व्यक्ति आपनी पूरी जिन्दगी नही बिता सकता है. अगर कोई कैंडिडेट IT सेक्टर में जॉब लेना चाहते है या फिर कुछ अलग करना है तो 4 साल अग्निवीर की नौकरी करने से अच्छा है कि कैंडिडेट 4 साल कॉलेज की डिग्री ले ली जाये उसके बाद उसे एक अच्छी नौकरी मिल जाएगी जिससे वह अपनी जिन्दगी में अच्छा पैसा कमा सकेगा और अगर उसकी नौकरी छूट भी जाती है तो वह किसी प्राइवेट कम्पनी में काम कर लेगा.

लेकिन सेना की ट्रेनिंग के दौरान जो चीजें सिखाई जाती है नौकरी दिलाने के लिए तो ज्यादा काम में नहीं आती है अब कोई अग्निवीर बनकर 4 साल बाद अपनी कराटे क्लास शुरू कर दिया फिर सेना में भर्ती होने वाले लोगों के लिए ट्रेनिंग वगैरह शुरू करवा दे, लेकिन ऐसा बहुत कम ही लोग कर पाएंगे क्योंकि उन्हें अपने आने वाले फ्यूचर की भी चिंता रहेंगी. 4 साल की नौकरी के बाद जब उन्हें जॉब से निकला दिया जायेगा तो उनके पास पैसा नही होगा तो उनका दिमाग भी काम नहीं करता है इसी वजह से लोग इतने गुस्से में आ गए और जगह-जगह दंगे शुरू कर दिए हैं.

तो दोस्तों उम्मीद करते हैं कि अग्निवीर भर्ती आपके लिए फायदे वाली है या नुकसान वाली, अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी तो ज्यादा से ज्यादा लोगो के साथ शेयर कीजियेगा.

इसे भी पढ़ें?

अग्निवीर योजना क्या है?

अग्निवीर भर्ती में NCC कैंडिडेट को मिलने वाले फायदे क्या होंगे?

अग्निवीर भर्ती के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स कौन-कौन से है?

क्या दाढ़ी मूछ वाले नही दे पाएंगे अग्निपथ आर्मी भर्ती

अग्निवीर भर्ती का सिलेबस क्या होगा?

प्रदर्शनकारी नही दे पाएंगे अग्निवीर भर्ती?

अग्निवीर को क्या काम करना होगा?

Spread the love

1 thought on “अग्निपथ योजना से फायदा या नुकसान | अग्निवीर भर्ती के फायदे और नुक्सान क्या है?

  1. क्या किया मोदी जी 4साल की नौकरी फिर 4साल के बाद क्या करेंगे 75%नौजवान इसका अपना काम बनता भाड़ में जाए जनता

Leave a Reply

Your email address will not be published.