12th कॉमर्स सब्जेक्ट से करने के बाद क्या करें?

12th Commerce ke baad kya kare in hindi- बहुत से स्टूडेंट्स 12th क्लास कॉमर्स सब्जेक्ट से पास करते हैं लेकिन इसके बाद उन्हें समझ नही आता कि आगे किस फील्ड में जाना उनके फ्यूचर के लिए सही रहेगा, और अगर आप जानना चाहते हैं कि 12th कॉमर्स सब्जेक्ट से करने के बाद आपको किस फील्ड में आगे बढ़ना चाहिए तो हमारे इस आर्टिकल में पूरा पढ़िए क्युकी आज इस आर्टिकल में हम आपको इससे रिलेटेड पूरी जानकारी देने वाले हैं.

12th कॉमर्स सब्जेक्ट से करने के बाद क्या करना चाहिए?

12th Commerce ke baad kya kare in hindi
Image Credit: Shutterstock

12th कॉमर्स से कम्पलीट कर लेने के बाद करने वाले कोर्सेज निम्नलिखित है-

बैचलर ऑफ़ कॉमर्स

बैचलर ऑफ़ कॉमर्स तीन साल का डिग्री कोर्स है इसे कॉरेस्पोंडेंस कोर्स की तरह किया जा सकता हैं इसे बीकॉम पास कोर्स भी कहा जाता है इस कोर्स में कॉमर्स और फाइनेंस रिलेटेड कोर्स सब्जेक्ट्स की स्टडी कराई जाती है कॉमर्स के कोर सब्जेक्ट में फाइनेंस, एकाउंटिंग, ऑडिटिंग, टैक्सेशन, लॉ, इन्वेस्टिंग, मैनेजमेंट, इन्सुरेंस, इन्वेस्टमेंट बैंकिंग, जनरल बैंकिंग और कंसल्टिंग आते हैं.जो स्टूडेंट्स अपना करियर कॉमर्स, एकाउंटिंग, फाइनेंस, बैंकिंग, इन्सुरेंस की फील्ड में बनाना चाहते हो. इसके अलावा जो स्टूडेंट चार्टर्ड एकाउंटेंसी, कास्ट एकाउंटेंसी, कंपनी सेक्रेटरीशिप फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं वो भी इस कोर्स को कर सकते हैं.

बीकॉम पूरा करने के बाद आप मैनेजमेंट, एडवरटाइजिंग, टीचिंग, लॉ, जर्नलिज्म, मास कम्युनिकेशन और डिजाईन जैसी जॉब को चुन सकते हैं. बीकॉम की डिग्री लेने के बाद आपको मिलने वाली सैलरी 3 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है.

बैचलर ऑफ़ कॉमर्स (Honours)

बीकॉम ओनर्स कॉमर्स स्ट्रीम स्टूडेंट्स के बीच में एक बहुत फेमस अंडरग्रेजुएट डिग्री प्रोग्राम में से एक है और बीकॉम ओनर्स की एकाउंटिंग, ऑडिटिंग फिर्म्स, बैंक और इन्सुरेंस कंपनीज में बहुत ज्यादा डिमांड होती है ऐसे स्टूडेंट्स को फाइनेंस, एकाउंटिंग, एचआर, और एडमिनिस्ट्रेटिव डिपार्टमेंट्स, के जूनियर लेवल पर हायर किया जाता है. इस कोर्स को करने के बाद आप मैनेजमेंट, टीचिंग, एडवरटाइजिंग, लॉ, जर्नलिज्म और डिजाईन में करियर बना सकते है.

बीकॉम ओनर्स की डिग्री लेने के बाद आपको मिलने वाली सैलरी 3 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है.

बैचलर्स इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (BCA)

जो स्टूडेंट्स कंप्यूटर लैंग्वेज वर्ल्ड में शामिल होना चाहते हैं उन स्टूडेंट्स के लिए ये एक बेस्ट कोर्स है इस कोर्स की ड्यूरेशन 3 साल है जो इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में करियर शुरू करने के लिए मोस्ट पोपुलर आप्शन्स में से एक है क्युकी आईटी इंडस्ट्री में बीसीए कैंडिडेट्स की डिमांड ज्यादा होती है लेकिन इस कोर्स को करने के लिए कैंडिडेट का 12th में कॉमर्स सब्जेक्ट के साथ-साथ इंग्लिश और मैथ होना भी जरूरी है. इस कोर्स को करने के बाद आपको गवर्नमेंट और प्राइवेट सेक्टर में बहुत  जॉब्स मिल जाएगी. जिनमे आप सिस्टम इंजीनियर, सॉफ्टवेयर टेस्टर, वेब डेवलपर, जूनियर प्रोग्रामर और सॉफ्टवेयर डेवलपर जैसी जॉब कर सकते हैं.

बीसीए की डिग्री लेने के बाद आपको मिलने वाली सैलरी 3 लाख से 5 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है.

बैचलर्स इन इकोनॉमिक्स

कॉमर्स स्टूडेंट्स बीए इकोनॉमिक्स ओनर्स और बीएससी इकोनॉमिक्स ओनर्स में से कोई भी कोर्स कर सकते हैं. इस कोर्सेज की ड्यूरेशन 3 साल की होती है जिन्हें आर्ट, साइंस और कॉमर्स स्टूडेंट्स कर सकते हैं इन दोनों कोर्सेज में बहुत कुछ सेम होता है और इनमे मेजर डिफरेंस ये है कि बीएससी करने पर आपको मैथमेटिक्स और स्टैटिक्स की एडवांस लेवल पर नॉलेज मिलेगी, जबकि बीए में प्रैक्टिकल लेसन को शामिल नही किया जाता है और इनमे ज्यादातर चीजे थ्योरिटिकल होती है.

इकोनॉमिक्स में बैचलर डिग्री लेने के बाद आप गवर्नमेंट बैंक, सिविल सर्विस, फाइनेंस इंस्टीट्यूट, बिज़नस फर्म, और मैन्युफैक्चरिंग में काम कर सकते हैं. बैचलर इन इकोनॉमिक्स करने के  बाद कैंडिडेट को 3 से 4 लाख रूपये पर एनम तक मिल सकती है.

बैचलर ऑफ़ बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन (BBA)

जो स्टूडेंट्स कॉमर्स, बिज़नस, और एडमिनिस्ट्रेशन फील्ड में क्रिटिकल और प्रैक्टिकल नॉलेज लेना चाहते हैं वो इस कोर्स को कर सकते हैं ये 3 साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है इस कोर्स को करने के बाद आपको कॉर्पोरेट फर्म और इंडस्ट्रीयल आर्गेनाइजेशन में जॉब ओप्पोर्चुंनिटीज पा सकते है और मार्केटिंग, फाइनेंस, सेल्स और एचआर फील्ड में भी अप्लाई कर सकते हैं.

बीबीए की बैचलर डिग्री लेने के बाद आपको मिलने वाली सैलरी 3 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है एमबीए की डिग्री लेने के बाद आपकी सैलरी 4 से 5 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है.

बैचलर ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज (BMS)

बीएमएस एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है और इस कोर्स की ड्युरेशन 3 साल की होती है जिसमे आपको मैनेजमेंट फील्ड के लिए तैयार किया जाता है जिससे आप फ्यूचर में अच्छी जॉब ओप्पोर्चुंनिटीस पा सके. इस कोर्स में ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट, इकोनॉमिक्स और बिज़नस स्टडीज की डीप नॉलेज दी जाती है एक बीएसएस ग्रेजुएट एकेडमिक इंस्टीट्यूशन्स, फाइनेंस और रिटेल, मार्केटिंग एंड सेल्स, कंसल्टिंग जैसी फ़ील्ड्स में जॉब कर सकता है.

बीएमएस कोर्स लेने के बाद आपको मिलने वाली स्टार्टिंग सैलरी 3 लाख से 4 लाख रूपये पर एनम तक हो सकती है.

बैचलर ऑफ़ कॉमर्स एंड बैचलर ऑफ़ लेजिस्लेटिव लॉ (B.Com LLB)

जिन स्टूडेंट्स को लॉ में इंटरेस्ट है वो इस कोर्स को कर सकते हैं सिम्पली इस 3 साल के एलएलबी कोर्स को करने के लिए कैंडिडेट का ग्रेजुएट होना जरूरी है लेकिन 12th कॉमर्स से करने के बाद आप इंटीग्रेटेड एलएलबी प्रोग्राम में एडमिशन ले सकते हैं जिसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देगा होगा. ये एक तरह का प्रोफेशनल लॉ प्रोग्राम है जिसकी ड्यूरेशन 5 साल होती है इस कोर्स में स्टूडेंट्स को कॉमर्स और लॉ से रिलेटेड सब्जेक्ट्स के बारे में पढ़ाया जाता है इस कोर्स को करने के बाद आप एक लॉयर, लीगल एडवाइजर, एडवोकेट, और लेक्चरर जैसी जॉब ओप्पोर्चुंनिटी पा सकते है.

बीकॉम एलएलबी कोर्स कर लेने के बाद आपको मिलने वाली सैलरी आपकी जों पोजीशन पर डिपेंड करेगी, जो 2 से 4 लाख रूपये पर एनम तक या इससे ज्यादा भी हो सकती है.

कॉमर्स स्ट्रीम के पोपुलर कोर्सेज के बाद अगर प्रोफेशनल कोर्सेज के बारे में बात की जाये तो 12th कॉमर्स से करने के बाद आप चार्टर्ड एकाउंटेंसी, कंपनी सेक्रेटरी, सर्टिफाइड फाइनेंसियल प्लानर, कास्ट एंड मैनेजमेंट एकाउंटेंट, किसी एक को चुन सकते हैं.

12th कॉमर्स विथ मैथमेटिक्स से करने के बाद आप कौनकौन से कोर्स कर सकते हैं?

बीकॉम ओनर्स, बीकॉम एकाउंटिंग, बीकॉम स्टैटिक्स, बीकॉम इन मैथमेटिक्स एकाउंटिंग एंड इंटरनेशनल फाइनेंस, बीकॉम एकाउंटिंग एंड टैक्सेशन, बीकॉम बैंकिंग एंड फाइनेंस, बीकॉम एप्लाइड इकोनॉमिक्स आदि.

12th कॉमर्स विथआउट मैथमेटिक्स से करने के बाद आप कौनकौन से कोर्स कर सकते हैं?

बीकॉम जनरल, बीकॉम मार्केटिंग, बीकॉम बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन, बीकॉम टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट आदि.  

इसी के साथ ही कॉमर्स स्टूडेंट आर्ट फील्ड के इन सब्जेक्टस को भी कर सकते है. बैचलर इन बैचलर ऑफ़ फाइन आर्ट्स (बीएफए), बीए इन ह्यूमनिटीस एंड सोशल साइंस, बीए इन आर्ट्स (बीए इन आर्ट्स/विसुअल/परफोर्मिंग), बीए इन हॉस्पिटैलिटी एंड ट्रेवल, बीए इन एनीमेशन, B.Des इन एनीमेशन, B.Des इन डिजाईन, बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (BJMC), बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म, बैचलर ऑफ़ मास मीडिया (BMM), और बीएचएम इन हॉस्पिटैलिटी एंड ट्रेवल आदि.

इसे भी पढ़ें?

M.A International Relations कोर्स क्या है?

B.E. कोर्स क्या है? | B.E. कोर्स की फीस कितनी है?

WHO क्या है? | WHO का काम क्या होता है?

Adobe Creative Cloud क्या है?

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, हम उम्मीद करते है कि हमारी इस (12th Commerce ke baad kya kare in hindi) जानकारी से आपको पता चल गया होगा कि आपको 12th कॉमर्स के कम्पलीट करने के बाद आगे किस फील्ड में जाना चाहिए, इसी के साथ हमारी ये (12th Commerce ke baad kya kare in hindi) जानकारी आपको पसंद आयी होगी और आपके लिए काफी यूजफुल भी होगी और जो लोग इसके  बारे में जानकारी लेना चाहते हैं उनके साथ भी जरुर शेयर कीजियेगा.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *